Press "Enter" to skip to content

अगर सड़क पर ले कर गये बिना PUC सर्टिफ‍िकेट के वाहन तो कटेगा 10 हजार का चालान, जानिए बचने का उपाय

दिल्ली में बढ़ते प्रदुषण को रोकने के लिए सरकार हर सम्भव प्रयास कर रही है फिर भी प्रदुषण कम होने का नाम नही ले रहा हैं, इसकी वजह राजधानी में करीब 18 लाख वाहन बगैर पॉल्यूशन अंडर कंट्रोल सर्टिफ‍िकेट के बिना दौड़ रहे हैं जो की दिल्ली सरकार के लिए मुस्बित बनी हुई है.

हालाकिं इससे निजात पाने के लिए ट्रांसपोर्ट व‍िभाग ने पॉल्‍यूशन चेक नहीं कराने वाले 13 लाख वाहन माल‍िकों को मैसेज के जर‍िए सूचना भेजी है. हालांकि 7 अक्‍टूबर से 10 हजार रुपये का चालान काटने की कवायद शुरू होते ही पीयूसी सर्टिफ‍िकेट लेने की रफ्तार बढ़ गयी है.

दिल्ली में  18 लाख वाहन बगैर पीयूसी सर्टिफिकेट के दौड़ रहे हैं, उनमें सबसे ज्यादा दो पहिया वाहन है बगैर पीयूसी सर्टिफिकेट वाले साढ़े 13 लाख दो पहिया वाहन हैं. इसके अलावा चार लाख 20 हजार कारें बिना पीयूसी सर्टिफिकेट के दिल्‍ली में दौड़ रही हैं

रिपोर्ट के मुताबिक  , दिल्ली में एक करोड़ 34 लाख वाहन चल रहे हैं, जिनमें 18 लाख वाहनों के पास पीयूसी सर्टिफिकेट नहीं हैं. इसपर अधिकारयों ने कहा कि हम नहीं चाहते कि सौ से भी कम रुपये में बनने वाले पीयूसी सर्टिफिकेट के लिए लोगों को 10 हजार का चालान कटवाना पडे़, लेकिन जब वह नहीं मानेंगे तो एक्‍शन होना तय है. और हम जल्द ही चालान काटेंगे

More from NewsMore posts in News »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *