उत्तराखंड के चमोली जिले की ऋषिगंगा घाटी में रविवार को हिमखंड के टूटने से अलकनंदा और इसकी सहायक नदियों में अचानक आई विकराल बाढ़ के चलते भारी तबाही मची है। बाढ़ के बाद करीब 50 से 100 लोग लापता बताए जाते हैं। हालांकि कई लोगों को बचाया भी गया है। तपोवन-रैणी में स्थित बिजली संयंत्र पूरी तरह से बह गया है। इस आपदा पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद समेत देश की तमाम सियासी हस्तियों ने दुख प्रकट किया है और लापता लोगों की कुशलता की कामना की है। जानें किसने क्‍या कहा…

राष्ट्रपति ने कुशलता की कामना की

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इस हादसे पर गहरी चिंता जताई है और लोगों की सुरक्षा की कामना की है। राष्ट्रपति ने ट्वीट कर कहा- उत्तराखंड में जोशीमठ के पास ग्लेशियर टूटने के करण क्षेत्र में हुए नुकसान को लेकर काफी चिंतित हूं। इस आपदा में फंसे लोगों की कुशलता की कामना करता हूं।

पीएम मोदी बोले- पूरा देश उत्‍तराखंड के साथ

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर कहा कि मैं बाढ़ से उत्पन्न स्थिति पर निरंतर नजर बनाए हुए हूं। पूरा देश उत्तराखंड के साथ है और राष्ट्र सभी की सुरक्षा के लिए प्रार्थना कर रहा है। राहत एवं बचाव कार्यों, राष्ट्रीय आपदा मोचन बल की तैनाती को लेकर लगातार वरिष्ठ अधिकारियों से बात कर रहा हूं।

शाह बोले- युद्धस्तर पर हो रहा बचाव का काम

इससे पहले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर कहा- मैंने उत्तराखंड की स्थिति को लेकर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से बात की है। सभी संबंधित अधिकारी लोगों को सुरक्षित करने में युद्धस्तर पर बचाव का काम कर रहे हैं। एनडीआाएफ की टीम बचाव कार्य में जुटी है। देवभूमि को हरसंभव मदद दी जाएगी।

लोगों की मदद करें कांग्रेस कार्यकर्ता

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा है कि मैं सभी की सुरक्षा के लिए प्रार्थना करती हूं। साथ ही कांग्रेस कार्यकर्ताओं और स्वयंसेवकों से अपील करती हूं कि वे राहत और बचाव के प्रयासों में लोगों और अधिकारियों की मदद करें। त्रासदी और संकट की इस घड़ी में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस उत्तराखंड के लोगों के साथ खड़ी है।

राहुल बोले- मदद करें कांग्रेस कार्यकर्ता

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने हादसे पर दुख व्यक्त किया और कहा कि राज्य सरकार सभी पीड़ितों को तुरंत सहायता मुहैया कराए। राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा- चमोली में ग्लेशियर फटने से बाढ़ त्रासदी बेहद दुखद है। मेरी संवेदनाएं उत्तराखंड के लोगों के साथ हैं। कांग्रेस के साथी भी राहत कार्य में हाथ बटाएं।

प्रियंका बोलीं- पूरा देश उत्तराखंड के साथ

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि उत्तराखंड में ग्लेशियर फटने से आई त्रासदी की खबर बहुत दुखद है। इस मुश्किल समय में पूरा देश उत्तराखंड के निवासियों के साथ खड़ा है। आपदा में फंसे लोगों के लिए मैं ईश्वर से प्रार्थना करती हूं। सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं से निवेदन है कि राहत और बचाव कार्यों में भरपूर सहयोग करें।

नड्डा बोले- प्रशासन सजग

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि उत्तराखंड के चमोली जि‍ले में अकस्मात ग्लेशियर टूटने से उत्पन्न परिस्थितियों को लेकर प्रशासन सजग है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत खुद राहत और बचाव कार्य देख रहे हैं।

वित्त मंत्री ने बताया- चौंकाने वाली त्रासदी 

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि यह बेहद चौंकाने वाली त्रासदी है। यह एक प्राकृतिक आपदा है। गृह मंत्री ने उत्तराखंड सरकार को हर संभव मदद देने का आश्वासन दिया है।

रक्षा मंत्री बोले- हम उत्‍तराखंड के लोगों के साथ 

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर कहा- मैं चमोली में ग्लेशियर के फटने से हुई त्रासदी का दृश्य देख रहा हूं। इस मुश्किल घड़ी में हम त्रासदी से प्रभावित लोगों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हैं। हादसे में जानी नुकसान दर्दनाक है। मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। मैं फंसे लोगों की कुशलता के लिए प्रार्थना कर रहा हूं।

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत बोले- अफवाहों से बचें 

उत्‍तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा है कि नदी के बहाव में कमी आई है जो राहत की बात है। रावत ने ट्वीट किया- मैंने अपने सभी कार्यक्रमों को रद कर दिया है। स्थिति पर खुद नजर रख रहा हूं। सभी स्तरों पर चमोली जिला प्रशासन की मदद की जा रही है। मैं सभी से अफवाहों पर ध्‍यान नहीं देने की अपील कर रहा हूं। हर जगह स्थिति सामान्‍य है। कहीं भी बाढ़ की स्थिति नहीं है। जल सैलाब आगे निकल गया है।

Journalist from Uttar Pradesh. At @News Desk he report, write, view and review Crcicket News. Can be reached at [email protected] with Subject line starting Umesh

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *