भारतीय टीम को मिला मीडिल ऑर्डर का नया सितारा, दादा गांगुली दक्षिण अफ्रीका में होगी असली परीक्षा

Advertisements

भारतीय क्रिकेट टीम दक्षिण अफ्रीका में तीन मैचों की टी-20 सीरीज में भाग लेने के लिए पहुंच गई है जिसके बाद इतने ही मुकाबलों की वनडे सीरीज भी खेली जाएगी। श्रेयस अय्यरने हाल ही में टीम इंडिया के लिए जबरदस्त डेब्यू किया है. श्रेयस फिलहाल साउथ अफ्रीका में टीम इंडिया के साथ हैं, जहां उन्हें अजिंक्य रहाणे जैसे सीनियर बल्लेबाज पर तरजीह मिल सकती है.

अय्यर को दक्षिण अफ्रीका के चुनौतीपूर्ण दौरे के लिए भारतीय टेस्ट टीम में चुना गया है। श्रेयस अय्यर ने एक टेस्ट मैच बल्लेबाज के तौर पर काबिलियत दिखाई हैं और उन्होंने अपनी पहली ही टेस्ट पारी में कानपुर में शतक भी लगाया था। वहीं भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने अय्यर की जमकर तारीफ की है और साथ ही कहा कि अय्यर की असली परीक्षा तब होगी जब वह दक्षिण अफ्रीका दौरे पर जाएंगे।

Advertisements

गांगुली कहते हैं, “मुझे लगता है कि अय्यर का फर्स्ट क्लास में एवरेज 50 के आसपास है और यह काफी लंबे समय से है। मैंने उनका फर्स्ट क्लास एवरेज देखा है वह 10 साल से 52 की औसत से रन बना रहे है। आप इसको कमतर नहीं आंक सकते हैं। किसी मौके पर आपको एक अवसर की तलाश होती है ताकि आप अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपना टैलेंट दिखा सकें।

मैं इस बात से बहुत ज्यादा खुश हूं कि उन्होंने अपने पहले टेस्ट मैच में बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन उनकी असली परीक्षा तब होगी जब दक्षिण अफ्रीका जाएंगे। जब वे दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड में खेलेंगे जहां पर पेस और बाउंस होता है तो मुझे उम्मीद है कि वह वहां पर भी प्रदर्शन करने में कामयाब रहेंगे।”

Advertisements

गांगुली ने कहा, मैं बेहद खुश हूं कि उसने अपने पहले टेस्ट में अच्छा प्रदर्शन किया, लेकिन उसकी असली परीक्षा तब होगी जब वह दक्षिण अफ्रीका जाएगा। जब वह दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड जाता है, गति और उछाल के साथ, उम्मीद है कि वह खड़ा होगा। भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच पहला टेस्ट मैच 26 दिसंबर 2021 से सेंचुरियन में खेला जाएगा।

Advertisements

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.