टी 20 वर्ल्डकप 2022 का काउंटडाउन शुरू हो चूका है, इसका आगाज इसी साल अक्टूबर के मध्य में ऑस्ट्रेलिया में होने वाला है. इसके लिए सभी अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट टीम तैयारियों में जुट गई है. वही, भारतीय टीम भी इससे पहले कई तरह तरह के प्रोयग करके टीम को इस मिशन के लिए मजबूत बना रही है. लेकिन अभी तक कुछ ऐसी बाते सामने आई है जिन्हें देखकर इस बार भी टीम इंडिया का वर्ल्डकप जीत पाना मुश्किल लग रहा है. तो चलिए जानते है वो 3 बाते जिनकी वजह से टीम इण्डिया इस बार भी मुश्किलों में नजर आ रही है..

1.वर्ल्डकप के लिए अधिकारिक तौर पर अभी तक कुछ भी अपडेट नहीं आई सामने:-

हाल ही में अलग अलग देशो के साथ खेली जा रही सीरीज में कप्तानो की अदला बदली और खिलाडियों के IN-OUT का सिलसिला काफी देखा गया है. इसमें सभी ने देखा की वो चंद ही ख़िलाड़ी है जिनकी टीम में जगह पक्की है बाकी किसी को भी पक्के तौर पर टीम शामिल नहीं किया जा रहा है. लेकिन टी 20 वर्ल्डकप के लिहाज से ये टीम इण्डिया का नेगेटिव पॉइंट है. इसी वजह से अभी टीम वर्ल्डकप के लिए टीम इण्डिया के स्क्वाड की भी कोई जानकारी सामने नहीं आई है. ऐसे में इस बार भी टीम इण्डिया का वर्ल्डकप जीतने का सपना टूट सकता है.

2.टॉप आर्डर बन रही बड़ी चिंता:-

टॉप ऑर्डर की बात करे तो इस समय रोहित शर्मा के अलावा अन्य कोई भी बल्लेबाज ओपनिंग पर फिक्स नहीं हुआ है. जबकि ये भी कुछ समय पहले तक टीम को अच्छी शुरुआत देने में कामयाब नहीं हो पाए थे. इंग्लैंड दौरे पर इन्होने अच्छी शुरुआत दी लेकिन बड़ी पारी नहीं खेल पाए. हालंकि टीम के पास कई ओपनिंग खिलाडी है लेकिन सभी तितर बितर है. जहां के एल राहुल अभी इंजरी का शिकार हुए है. तो वही धवन को टी 20 से नजरअंदाज किया जा रहा है. इसके आलवा गायकवाड़ तो आउट ऑफ़ फॉर्म है. बस राहुल की जगह इशान किशन को मौका मिल रहा है.

3.विराट कोहली की फॉर्म:-

जी हां, ये भी टीम के लिए एक बड़ी समस्या है. विराट कोहली काफी लम्बे समय से आउट ऑफ़ फॉर्म चल रहे है. और अब आने वाले तीन महीने में ये अपनी फॉर्म में वापसी कर पायेंगे या नहीं इस बारे में कुछ भी कहना मुश्किल है. हालंकि, टीम के पास दीपक हुड्डा के रूप में इनका बैकअप है. लेकिन फिर भी कोहली की फॉर्म चिंता का विषय तो बना हुआ है क्योकि वो एक अनुभव वाले खिलाडी है.

4.मध्य क्रम भी कमजोर स्थिति में:-

इस क्रम में देखा जाए तो 4 नंबर के लिए सुर्याकुमार यादव फिट माने जा रहे है. लेकिन यदि बाकी खिलाडियों की बात की जाए तो इस समय श्रेयस अय्यर पूरी तरह से आउट ऑफ़ फॉर्म है, वो शोर्ट पिच गेंदों के सामने आसानी से अपना विकेट गवां बैठते है. वही, बात ऋषभ पन्त की करे तो इन्होने भी इंग्लैंड दौरे पर कुछ अच्छी पारियाँ खेली है लेकिन टी 20 क्रिकेट में ये स्कोर नहीं कर पाए है. ऐसे में टीम इण्डिया का मध्यक्रम भी कमजोर स्थिति में नजर आ रहा है. और ये वर्ल्डकप में परेशानी का कारण बन सकता है.

5.भारत के स्पिनर्स और पेस गेंदबाजों की स्थिति भी नहीं है साफ:-

इंग्लैंड दौरे पर हमने देखा की केवल जसप्रीत बुमराह सबसे खतरनाक नजर आये. और ये ऑस्ट्रेलिया की सरजमी पर भी विरोधियों के लिए सबसे बड़ा खतरा बन सकते है क्योकि यहाँ गेंद को स्विंग नहीं मिलता. लेकिन ये चीजं स्विंग के किंग भुवनेश्वर के लिए मुश्किलें पैदा कर सकती है.

वही, बात स्पिनर्स की करे तो इस समय युज्वेंद्र चहल शानदार फॉर्म में चल रहे है,लेकिन कुछ लोगो का ऐसा मानना है की इस बार भी इन्हें वर्ल्ड कप खेलने का मौका नहीं मिल सकता. क्योकि पीछे साल भी ये अच्छा प्रदर्शन कर रहे थे इसके बावजूद भी इनकी जगह वरुण चक्रवर्ती को UAE भेजा गया था. इसके आलवा जडेजा को मौका मिल सकता है लेकिन ये भी इस समय विकेट लेने में कामयाब नहीं हो पा रहे है. ऐसे में इस बार फिर टीम इण्डिया का वर्ल्डकप जीतने का सपना टूट सकता है.

Journalist from Moradabad. At @News Desk he report, write, view and review Crcicket News. Can be reached at hello@newsdesk-24.com with Subject line starting Kuldeep.

Leave a comment

Your email address will not be published.