ये हैं भारत के 5 सबसे सस्ते मार्किट, जहाँ मिलता है 100 रूपये में स्वेटर, 150 में लेदर जैकेट

गर्मी चली गयी है और नवम्बर- दिसम्बर का महिना शुरू हो गया है और इसी के साथ शुरू हो गई है कड़ाके की ठंड.कड़े की ठंड से बचने के लिए  ऐसे में हम सभी लोग सर्दियों के लिए जैकेट, ब्लेजर और स्वेटर की जरुरत पड़ती है. हम ऐसे शौपिंग  बाजार की तलाश करने लगते है की जहाँ पर कम दाम बहुत बहुत ही अच्छी क्वालिटी के सर्दियों के प्रोडक्ट्स मिलते हो.

अगर आप भी ऐसे ही बाजार की तलाश कर रहे है आज हम आपको वही बताने वाले है. चार ऐसे बजारों के बारे में जहाँ मात्र 100-200 रूपये में कपड़े मिलते हैं.100 रूपये में स्वेटर, 150 में लेदर जैकेट, ये है इंडिया के टॉप 5 सबसे सस्ते बाजार

1. गाँधी नगर मार्केट, दिल्ली

अगर आप कम दाम में बहुत ही अच्छी क्वालिटी के जैकेट, स्वेटर आदि खरीदना चाहते हो तो दिल्ली का गांधीनगर मार्किट सबसे अच्छा है. इस मार्केट में 15 हजार से ज्यादा दुकाने है और यह एशिया का सबसे बड़ा होलसेल मार्किट है. यहाँ पर आपको स्वेटर 100 रूपये में और लेदर जैकेट 150 रूपये से मिलना शुरू हो जाता है.

2. कमला नगर मार्केट, दिल्ली

इस मार्केट में आपको महिलाओं और पुरुषों दोनों के लिए ही बहुत ही अच्छी स्वेटर, जींस, जैकेट आदि मिलते है. यहाँ पर प्रोडक्ट्स की रेंज 100 रूपये से शुरू हो जाती है जो क्वालिटी के हिसाब से 2000 रूपये तक जा सकती है.

3. लुधियाना वूलन मार्केट और पंजाब की घूमर मंडी

यहाँ पर ऊनी कपड़ो की 1000 से अधिक दूकान है. यहाँ पर स्वेटर, जैकेट, पार्टी वियर ड्रेस सभी कुछ रिटेल दुकान से 50% डिस्काउंट पर मिल जायेगा.

4. अमीनाबाद मार्केट, लखनऊ

लखनऊ का यह मार्किट पूरे भारत में प्रसिद्ध है, यहाँ पर ऊनि कपड़ो के साथ ही आर्टिफीसियल ज्वेलरी भी बेहद ही कम दामो पर मिलती है. यहाँ पर बार्गेन करके आप और भी कम दाम पर खरीददारी कर सकते है.

5. जौहरी बाजार जयपुर

जयपुर के इस बाजार की तंग गलियों में आपको सर्दियों के प्रोडक्ट बहुत ही ज्यादा मात्रा में मिलने वाले है. यहाँ पर पुरे साल ही ग्राहकों की भीड़ जमा रहती है. यहाँ आम रिटेल दुकानों से सभी प्रोडक्ट आपको 30 से 50 % तक प्राइस कम मिलता है.

आप हमें बताइए की आप कौनसी सिटी में रहते है और कहाँ से ऐसे कपड़े खरीदते है. जानकारी पसंद आई हो तो लाइक और शेयर करना ना भूले.

डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकारियों के आधार पर बनाई गई है. QuickJoins/Newsdesk अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.