योगी आदित्यनाथ ने ऑक्सीजन को लेकर दिए सख्त निर्देश, यूपी मे अब सिर्फ इन्हें ही मिलेगा सिलेंडर

Advertisement

यूपी में लखनऊ की हालत बहुत खराब है, ऑक्सीजन सिलेंडर की मांग बढ़ गयी है, बिना ऑक्सीजन के कोई भी मरीज नही है, चारों तरफ हाहाकर मचा हुआ है, इसी को लेकर अब कमान योगी आदित्यनाथ ने अपने हाथों में ले ली है और ऑक्सीजन सिलेंडर को लेकर कड़े निर्देश जारी किये है

Advertisement

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जारी किये निर्देश 

यूपी में ऑक्सीजन सिलेंडर की कालावाजारी को रोकने और मरीज तक ऑक्सीजन सिलेंडर पहुचने के लिए योगी जी सख्त आदेश दिए हैं योगी जी ने निर्देश दिया है की  अगर कोई ऑक्सीजन सिलेंडर लेने जाता है तो, डाक्टर की पर्ची दिखाने पर ही सिलेंडर दिया जाएगा।

Advertisement

दवाई की कालाबाजारी करने पर लगेगा गैंगस्टर, एनएसए

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए हैं कि रेमेडेसिवर, जीवन रक्षक दवाओं तथा ऑक्सीजन की कालाबाजारी करने वालों पर गैंगस्टर, एनएसए लगाया जायेगा और ऐसे लोगों की सम्पत्ति भी जब्त की जायेगी।

अपर मुख्य सचिव ने दी सूचना 

यूपी के  नवनीत सहगल ने बताया की अनावश्यक रूप से हर आदमी आक्सीजन के पीछे न भागे। जिसे डाक्टर ने जिसे आक्सीजन की आवश्यकता बताया है, उसे ही आक्सीजन उपलब्ध कराई जाएगी। मुख्यमंत्री के निर्देश पर जिलों में कोविड बेड बढ़ाने का कार्य में निरन्तर, जिसमें 200-200 बेड बढ़ाने की प्रक्रिया की जा रही है।

प्रदेश में आक्सीजन नियंत्रित करने के लिए कन्ट्रोल रूम बनाया गया है, आक्सीजन की किसी भी प्रकार की कमी नहीं है, लेकिन आक्सीजन की व्यवस्था निरन्तर की जा रही है। एक नया साफ्टवेयर लगाया गया है जिसके माध्यम से अस्पतालों को कब और कैसे कितनी आक्सीजन जा रही है।

बनेगा 5000 बेड का अस्पताल 

लखनऊ में केजीएमयू, बलरामपुर अस्पताल को पूर्णतया कोविड अस्पताल बनाकर लगभग पांच हजार आसीयू बेड तक ले जाने का लक्ष्य रखा गया है।

Advertisement