विराट कोहली को वनडे कप्तानी हटाने के लिए BCCI पिछले 4 महीने से कर रही थी प्लानिंग, विराट में की एक गलती और चली गयी कप्तानी

Advertisements

पिछले कुछ हफ्तों से विराट कोहली (Virat Kohli) चर्चा में हैं. टी20 फॉर्मेट में कप्तानी छोड़ने का फैसला करना, वनडे कप्तानी से हटाए जाना और फिर उनकी प्रेस कॉन्फ्रेंस, सभी ने काफी ध्यान खींचा. लगातार यह खबरें सामने आने लगी कि कोहली इस फैसले के लिए बिल्कुल भी तैयार नहीं थे और वनडे में टीम की कप्तानी करना जारी रखना चाहते थे।

BCCI ने लिया हैरान करने वाला फैसला  

बीसीसीआई ने हैरान करते हुए दक्षिण अफ्रीका सीरीज के लिए टेस्ट टीम की घोषणा के वक्त रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को वनडे टीम का कप्तान बनाने का भी ऐलान कर दिया. बाद में बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने कहा कि कोहली ने टी20 कप्तान के रूप में पद नहीं छोड़ने के बीसीसीआई के अनुरोध को ठुकरा दिया था. इसको देखते हुए ही हमने वनडे कप्तनी भी वापस ले ली थी, BCCI नही चाहती थी की सफेद बाल की कप्तानी दो अलग अलग हाथों में जाएग

Advertisements
विराट ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके दादा को बताया गलत

इन सभी आरोपों के बीच विराट कोहली ने दक्षिण अफ्रीका सीरीज के दौरे से पहले  प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए गांगुली के उन दावों का सार्वजनिक रूप से नकार दिया. कोहली ने दक्षिण अफ्रीका दौरे से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘टेस्ट सीरीज के लिए 8 दिसंबर को चयन बैठक से डेढ़ घंटा पहले मुझसे संपर्क किया गया था. जब मैंने टी20 कप्तानी के फैसले की घोषणा की, तब से लेकर 8 दिसंबर तक मुझसे कोई बात नहीं हुई.’

मना किया था मत छोड़े टी-20 में कप्तानी

विराट कोहली के इस बयान के बाद से BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली को लेकर उनके दिए बयान पर चारो तरफ से सवाल खड़े किए जाने लगे। जिसमें गांगुली ने 9 दिसंबर को कहा था कि उन्होंने कोहली से टी-20 में कप्तानी छोड़ने से मना किया था।

Advertisements

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.