सीट बनाने वाला रातों रात बन गया करोड़पति, 567 साल पुराने दुर्लभ सिक्के ने बदल दी किस्मत, मिले 3 करोड़ रूपये

किस्मत कब बदल जाये कुछ कहा नही जा सकता ऐसा ही कुछ हुआ रियाणा के सिरसा में डबवाली के रहने वाले एक युवक के साथ. इस युवक की किस्मत ऐसी बदली की वो रातो रात करोड़पति बन गया. सिरसा रोड के एक दुकानदार के पास करीब 567 साल पुराना इस्लामिक सिक्का था.

शहर से करीब पांच किलोमीटर दूर स्थित जिला बठिंडा के गांव डूमवाली निवासी गोरीशंकर उर्फ विक्की डबवाली के सिरसा रोड पर सीट बनाने का काम करता था. उसकी सीट में ये सिक्का मिला. इस सिक्के के दुबई के एक व्यक्ति ने इतिहासिक सिक्के की कीमत डेढ़ करोड़ रुपय लगाई थी. दुकानदार इसे साढ़े तीन करोड़ रुपये में बेचना चाहता था.

शुरू में गोरीशंकर को ये सिक्का आम सिक्का लगा लेकिन जब इसको साफ करके देखा तो तो उर्दू भाषा में कुछ लिखा नजर आया. यह पता था कि सिक्का इतिहासिक है इस सिक्के पर जो लिखा है वो पढकर मौलवी दंग रह गए थे.

1 करोड़ लगाई बोली 

मौलवी ने बताया कि इस्लामिक कलेंडर अनुसार सिक्का वर्ष 1450 के समय का है. जिस पर मदीना शहर लिखा हुआ है. करीब 567 वर्ष पुराने सिक्के की फोटो जब अपने मित्रों के जरिए दुबई तक पहुंचाई तो वहां के एक व्यक्ति ने डेढ़ करोड़ रुपये कीमत लगाई थी. लेकिन गौरी इसको ३ करोड़ में बेचना चाहता है.

ऐसे मिला ये सिक्का :

रिपोर्ट के मुताबिक गौरी के नाना एक स्कूल में पढ़ते थे. वे गुरुग्राम में सरकारी मुलाजिम थे. यहां तक उसे पता है कि उसके नाना को उपरोक्त सिक्का उनके नाना ने दिया था. नाना ने सिक्के को संभालकर रखने के लिए कहा था। उसने सिक्के की अहमियत को समझकर बैंक के लॉकर में रखवा दिया है.

(डिस्क्लेमरः यह खबर अलग-अलग स्रोतों से जुटाई गई सूचनाओं पर आधारित है. NewsDesk/Quick Joins न्यूज़ इस तरह के किसी खबर की पुष्टि नहीं करता है.)

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.