क्रिकेट के खेल में अक्सर देखा जाता है की जो खिलाड़ी वनडे और टी 20 में कमाल का प्रदर्शन करते है वो टेस्ट क्रिकेट में फ्लॉप हो जाते है। वही, टेस्ट क्रिकेट में बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ी वनडे और टी 20 में कुछ कमाल नहीं कर पाते। लेकिन भारतीय क्रिकेट के इतिहास में सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़, विराट कोहली, सौरव गांगुली, वीरेंद्र सहवाग और MS धोनी वो खिलाड़ी है जिन्होंने क्रिकेट के तीनो फोर्मेट में अपना जलवा दिखाया है।

इसी के चलते आज हम आपको 2 ऐसे भारतीय आलराउंडर के बारे में आपको बताने वाले है, जिन्होंने वनडे और टी 20 फोर्मेट में खेलते हुए अपने बल्ले से दुनिया के हर क्रिकेट ग्राउंड रनों की झड़ी लगाईं है। लेकिन ये दोनों ही टेस्ट क्रिकेट में फ्लॉप साबित हुए है। तो चलिए जानते है इनके बारे में..

1.सुरेश रैना:-

एक वक्त था जब टी 20 और वनडे में सुरेश रैना के नाम का सिक्का चलता था। जब इण्डिया टीम में सुरेश रैना होते थे तब दुनिया की कोई भी टीम भारत को आसानी से हरा नहीं पाती थी। और तब इनके नाम का स्लोगन चलता था. रैना है ना… लेकिन अब ये स्लोगन इतिहास के पन्नो में दब चूका है। रैना मिडिल आर्डर में भारतीय टीम की सबसे बड़ी ताकत थे। इन्होने अपने कैरियर में 226 वनडे मैच खेले जिनमे इन्होने 5 शतक और 36 अर्धशतक की मदद से 5615 रन बनाये थे। वही, टी 20 क्रिकेट में 78 मैच खेले जिनमे इन्होने 1 शतक और 5 अर्धशतक की मदद से 1605 रन अपने नाम किये थे। इसके अलावा 13 विकेट भी चटकाए।

लेकिन बात इनके टेस्ट क्रिकेट की करे तो इन्होने 18 टेस्ट मैच खेले जिनमे 1 शतक 7 अर्धशतक की मदद से कुल 768 रन ही बना पाए। ऐसे में ये कहना गलत नहीं होगा की टेस्ट क्रिकेट में सुरेश रैना का बल्ला कुछ खास कमाल नहीं कर पाया।

2.युवराज सिंह:-

ये वो खिलाड़ी है जिसके नाम साल 2007 में टी 20 वर्ल्डकप में इंग्लैंड के खिलाफ 6 गेंद में 6 छक्के और 2011 वनडे वर्ल्ड कप में मैन ऑफ दा सीरीज जीतने का अनोखा रिकॉर्ड है। एक वक्त में युवराज सिंह वनडे और टी 20 फोर्मेट में टीम इण्डिया की सबसे बड़ी ताकत माने जाते थे। इनका बल्ला भी दुनिया के हर मैदान में जमकर रन कूटता था। इन्होने साल 2000 में वनडे डेब्यू किया और अपने कैरियर में 304 वनडे मैच खेले जिनमे इन्होने 14 शतक और 52 अर्धशतक की मदद से कुल 8701 रन बनाये और 111 विकेट अपने नाम किये। वही, टी 20 क्रिकेट में इन्होने 58 मैच खेले जिसमे 8 अर्धशतक की मदद से 1177 रन और 28 विकेट हासिल किये।

वही, बात इनके टेस्ट क्रिकेट की करे तो इन्होने साल 2003 में अपना टेस्ट डेब्यू क्या था तब से लेकर इन्होने 40 मैच खेले जिनमे इन्होने 3 शतक और 11 अर्धशतक की मदद से 1900 रन और 9 विकेट हासिल किये।

Journalist from Moradabad. At @News Desk he report, write, view and review Crcicket News. Can be reached at hello@newsdesk-24.com with Subject line starting Kuldeep

Leave a comment

Your email address will not be published.