इन 3 दिग्गज क्रिकेटर ने जल्दबाजी में ले लिया संन्यास, टीम को खल रही है कमी, खेलना चाहिए था और क्रिकेट

हर एक क्रिकेटर का सपना होता है की लम्बे समय तक मैदान पर डटा रहे और आपने देश के लिए खेलता रहे, लेकिन ऐसा नही हो पाता, कुछ ही क्रिकेटर अपनी पेरोफोर्मेंस को बरकरार रखते हुए टीम में या क्रिकेट में अपनी जगह बनाये रखते हैं और लम्बे समय तक खेलते रहते हैं. लेकिन आज हम आपको ऐसे 3 खिलाडियों के बारे में बताने जा रहे हैं जिनकी पेर्फोमेंस काफी अच्छी थी लेकिन फिर भी उन्होंने क्रिकेट को अलविदा कह दिया

इन 3 खिलाडियों ने 2020 में क्रिकेट को अलबिदा कह दिया है लेकिन उनकी कमी टीम में साफ दिख रही है, अगर ये चाहते तो आगे भी 2-3 साल खेल सकते थे लेकिन उन्होंने खुद को दूर करके युवाओ को मौका देना सही समझा

१.महेंद्र सिंह धोनी

भारत के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) ने 15 Aug 2020  अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहकर आपने क्रिकेट के करियर पर विराम लगा दिया था  गैर पारंपरिक शैली में कप्तानी और मैच को अंजाम तक ले जाने की कला के साथ भारतीय क्रिकेट के इतिहास के कई सुनहरे अध्याय लिखने वाले 39 वर्ष के धोनी के इस फैसले के साथ ही क्रिकेट के एक युग का भी अंत हो गया. आज के समय में टीम इंडिया जिस दौर से गुजर रही है उसको देखते हुए ऐसा लग रहा है की धोनी की टीम इंडिया को जरूरत है

धोनी ने अपने इंस्टाग्राम पर लिखा, ‘अब तक आपके प्यार और सहयोग के लिए धन्यवाद। शाम सात बजकर 29 मिनट से मुझे रिटायर्ड समझिए।’ धोनी ने आखिरी बार वनडे वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेला था। उसके बाद से उनके रिटायरमेंट की अटकलें लगाई जा रही थीं, लेकिन वह मौन थे। अब जब आईपीएल के लिए वह चेन्नै कैंप में शामिल होने पहुंचे तो उन्होंने अपने फैसले का ऐलान कर दिया।

2. सुरेश रैना

टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर सुरेश रैना ने 15 अगस्त की शाम को महेंद्र सिंह धोनी के इंटरनैशनल क्रिकेट से संन्यास की घोषणा के कुछ समय बाद खुद भी संन्यास की घोषणा कर दी थी। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने बताया कि रैना ने अपने संन्यास की सार्वजनिक तौर पर घोषणा करने के एक दिन बाद बीसीसीआई को अपने इस फैसले से अवगत कराया।, सुरेश रैना के टीम इंडिया से जाने के बाद उनकी कमी साफ साफ दिखाई दे रही हैं.

3. शेन वॉटसन

ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज आलराउंडर खिलाड़ी रहे शेन वॉटसन ने ​क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से सन्यास लेने की घोषणा कर दी है। वह इंडियन प्रीमियर लीग में चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए खेल रहे थे। शेन वॉटसन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से 2016 में ही सन्यास ले चुके हैं। लेकिन, वह अंतरराष्टीय ​क्रिकेट लीग्स में खेल रहे थे। ऑस्ट्रेलिया टीम कई मैच में बुरी तरहा हारी है और उनको शेन वॉटसन की कमी खल रही है

 

 

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.