34 साल बाद इतने बदल गए रामानंद सागर की रामायण के पात्र, सीता को पहचान पाना हो रहा मुश्किल

आज से करीब ३५ साल पहले जब रामायण की टीवी पर चलाया गया था तो ये सबसे पसंदीदा भक्ति चैनल था. जब शाम के ७ बजे रविवार के दिन रामायण का शुभारम्भ होता था तो लोग अपना काम धाम बंद करके टीवी के आगे बैठ जाया करते थे पुरानी रामायण के पात्रों को लोग लंबे वक्त तक नहीं भूलने वाले। 1985 में बनी रामानंद सागर को आज 35 साल पूरे हो चुके हैं। इतने सालों में रामायण में काम करने वाले किरदारों में कितना बदलाव आ गया है आज हम इसी विषय पर चर्चा करेंगे।

अरविंद त्रिवेदी/ रावण

रामानंद सागर की रामायण में रावण का किरदार अरविंद त्रिवेदी ने निभाया था। मूलरूप से मध्यप्रदेश के इंदौर शहर से ताल्लुक रखने वाले अरविंद ने गुजराती भाषा सहित हिंदी की 300 फिल्मों में काम किया है। वह 90 के दशक में टीवी और फिल्मों की दुनिया से अलग हो गए थे। अब अरविंद 80 साल के हो चुके हैं और बेहद कमजोर भी। वह लाइमलाइट से दूर रहते हैं।

अरुण गोविल/ श्री राम

अरुण गोविल ने राम का किरदार निभाकर ऐसी छाप छोड़ी कि लोग उन्हें असली राम समझने लगे। वह जहां भी जाते थे लोग उनके पैर छूने लगते थे। रामायण से पहले उन्होंने रामानंद सागर के सीरियल विक्रम और बेताल में राजा विक्रमादित्य का रोल प्ले किया था। रामायण के बाद उन्होंने इतनी सी बात, श्रद्धांजलि, जियो तो ऐसे जियो, सावन को आने दो जैसी कई फिल्मों में भी काम किया है। ठीक ठाक रोल ना मिलने की वजह से अरुण ने फिल्मी दुनिया को अलविदा कह दिया। अब वह अपने परिवार के साथ समय व्यतीत करते हैं।

सुनील लहरी/ भगवान राम के भाई लक्ष्मण

भगवान राम के किरदार के बाद सबसे ज्यादा जिस किरदार की चर्चा हुई वह था लक्ष्मण का किरदार। सुनील लहरी इस किरदार को निभाकर घर-घर में लक्ष्मण के रूप में फेमस हो गए। सुनील मध्यप्रदेश के दमोह में जन्मे हैं। फिलहाल वह मुंबई में एक विज्ञापन कंपनी चलाते हैं। कंपनी का नाम है शिखरमूवी। सुनील भले ही मनोरंजन की दुनिया में आज भी एक्टिव हैं लेकिन उन्हें रामायण के लक्ष्मण जैसा स्टारडम नहीं मिल पा रहा है।

पदमा खन्ना

पदमा भले ही बॉलीवुड की जानी-मानी अभिनेत्री रही हों लेकिन उन्हें सबसे ज्यादा पहचान मिली रामानंद सागर की रामायण में निभाए कैकई के रोल के लिए। फिल्म पाकीजा में पदमा खन्ना ने मीना कुमारी के बॉडी डबल का रोल किया था। आपको जानकर हैरानी होगी कि पदमा ने अलग-अलग भाषाओं की 400 फिल्मों में काम किया। 90 के दशक में जगदीश एल सिडाना से शादी करके वह अमेरिका शिफ्ट हो गईं। पदमा 70 साल की हो चुकी हैं।वह अमेरिका में इंडियानिका डांस एकेडमी चलाती हैं। फिल्मों में लौटने का उनका फिलहाल कोई इरादा नहीं है।

दीपिका चिखलिया/ माता सीता

दीपिका चिखलिया को आज भी सीता के रोल के लिए याद किया जाता है। बिजनेसमैन हेमंत टोपीवाला से शादी करने के बाद वह लाइमलाइट से पूरी तरह दूर हो गईं। फिलहाल दीपिका अपने पति की कॉस्मेटिक कम्पनी की मार्केटिंग हेड हैं। उनकी दो बेटियां हैं। आज भी बुजुर्ग महिलाएं उन्हें सीता समझकर पैर छू लेती हैं। फिलहाल दीपिका का एक्टिंग लाइन में लौटने का कोई इरादा नहीं है।

दोस्तों आपको रामानंद सागर की रामायण का सबसे पसंदीदा कलाकार कौन लगता था नीचे हमें उस कलाकार का नाम बताएं।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.