बंगाल की टाइगर जिसको कहा जाता था ‘बाघों की रानी’, एक साल में कमाती थी 65 करोड़ रूपये

Advertisement

आज के जमाने में कोई भी रातों रात महशूर हो जाता है, आपने ना जाने कितने सेलिब्रिटीज, एथीलीट, नेताओं के बारे तो सुना ही होगा लेकिन आज हम आपको एक ऐसी बाघिन से मिलवाने जा रहे हैं जो किसी सेलिब्रिटी से कम नही है.

Advertisement

रणथम्बोर नेशनल पार्क की ये बाघिन पूरी दुनिया में मशहूर हुई. इस बाघिन को मछली के नाम से जाना जाता है,ये बाघिन दुनिय भर में मसहूर है इस बाघों की रानी, लेडी ऑफ लेक और रणथम्बोर की रानी जैसे टाइटल से भी जाना जाता था.

इस बाघिन के नाम से इसलिए जाना जाता है क्योंकी इसके मुंह पर मछली का निशान था, जो इसकी खूबसूरती में चार चाँद लगा देता है.

Advertisement

इसने 11 बाघों को जन्म दिया था. मछली को लाइफ टाइम अचीवमेंट अवॉर्ड भी मिला था.वो हर साल करीब 65 करोड़ रुपये का बिजनेस देती थी.

18 अगस्त 2016 को जंगल की रानी दुनिया को अलविदा कह गई.  एवं हिंदू रिति रिवाजों के साथ उसका अंतिम संस्कार किया गया.

Advertisement
admin
Journalist from Gurugram. At @News Desk she report, write, view and review hyperlocal buzz of Delhi NCR. Can be reached at hello@newsdesk-24.com with Subject line starting Meenakshi