|

4 भारतीय खिलाड़ी जिन्होंने रातों रात बनाई अपनी पहचान, अब टीम से दूर होने के बाद जी रहे गुमनाम जिंदगी

भारतीय टीम में जितना मुश्किल जगह बनाना होता है उससे ज्यादा मुश्किल टीम में जगह बनाये रखना होता है. टीम में जगह बनाये रखने के लिए अच्छा प्रदर्शन और खुद को फिट रखना जरूरी होता है. आज हम आपको ऐसे ही 5 भारतीय खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने भारतीय टीम में जगह तो बना ली लेकिन बहुत जल्द टीम से बाहर हो गए और आज गुमनाम जिन्दगी गुजार रहे हैं.

आविष्कार साल्वी

आविष्कार साल्वी का चयन भारतीय टीम में तेज गेंदबाज के रूप में हुआ था उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ डेब्यू किया और अभी 4 वनडे मैच ही खेलेे थे कि वो चोटिल हो गए और टीम से बाहर हो गए, तब से आज तक वो भारतीय टीम में वापसी नही कर पाए,

अमय खुरासिया

अमय खुरासिया का चयन भारतीय टीम में एक खतरनाक बल्लेबाज के रूप में हुआ था, इनके सामने कोई भी गेंदबाज गेंद करने से डरता था, अमय खुरासिया ने साल 1999 में वापसी की और श्रीलंका के खिलाफ 50 जड़कर रिकॉर्ड बनाया था 1999 विश्व कप के लिए जगह मिल गई। विश्व कप के बाद तो उनका करियर ही 2001 में खत्म हो गया।

देबाशीष मोहंती

देबाशीष मोहंती गेंदबाज के रूप में एक उभरते सितारे की तरह थे । देबाशीष मोहंती में एक तेज गेंदबाज के बेहतरीन गुण मौजूद थे, ये बहत कमाल की गेंदबाजी करते थे 47 वनडे मैच खेलने के बाद उन्हें टीम से बाहर कर दिया तो फिर वो कभी वापसी नहीं कर सके।

टीनू योहानन

टीनू योहानन एक प्रतिभाशाली गेंदबाज थे टीनू योहानन ने भारत के लिए डेब्यू करने के साथ ही पहले ही मैच में जोरदार प्रदर्शन किया लेकिन इसके बाद वो भारत के लिए 3 टेस्ट और 3 वनडे ही खेल सके और टीम से बाहर हो गए।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.