बल्लेबाज

दुनिया के 5 खिलाड़ी जो बनना चाहते थे गेंदबाज, लेकिन बन गए बल्लेबाज, नंबर 1 के आगे में विराट-रोहित भी फेल

दुनिया में बहुत सारे ऐसे खिलाड़ी है जिन्होंने एक समय अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत बतौर गेंदबाज किया था। लेकिन उनकी किस्मत को कुछ और ही मंजूर था, जिस वजह से उन्हें बल्लेबाज बनना पड़ा और उन्होंने अपनी बल्लेबाजी से दुनिया के बड़े-बड़े गेंदबाजों की धुनाई की। तो चलिए आज हम दुनिया टॉप-5 ऐसे क्रिकेटर के बारे में जानते हैं जो अपने करियर की शुरुआत में गेंदबाजी करते थे, लेकिन बाद में वो एक बेहतरीन बल्लेबाज बन गए।

1. स्टीव स्मिथ

स्टीव स्मिथ वर्तमान में ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज बल्लेबाज है जिन्होंने अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत बतौर स्पिनर गेंदबाजी से की थी। लेकिन उनके किस्तम में गेंदबाज बनना नहीं लिखा था, इसी वजह से वो आज टेस्ट क्रिकेट के सबसे बेहतरीन बल्लेबाज है। क्योंकि क्रिकेट के इस फॉर्मेट में उनका औसत 60.85 का है जो बहुत बढ़िया है।

2. कैमरून व्हाइट

ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी कैमरून व्हाइट भी अपने करियर के शुरुआत में स्पिन गेंदबाजी करते थे। जब ब्रैड हॉग ने क्रिकेट को अलविदा कहा, उसके बाद कैमरून व्हाइट ऑस्ट्रेलिया का सबसे बेहतरीन स्पिन गेंदबाज माना जाता था। उसके बाद 2009 में व्हाइट इंग्लैंड दौरे पर बतौर बल्लेबाज खेलते हुए शानदार प्रदर्शन किया, फिर लंबे समय तक वो अपनी टीम के शानदार प्रदर्शन करते नजर आए।

3. सनथ जयसूर्या

श्रीलंका क्रिकेट टीम के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज सनथ जयसूर्या अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बतौर स्पिन गेंदबाज डेब्यू किया था। लेकिन साल 1993 में उन्हें बतौर सलामी बल्लेबाज खेलने का मौका दिया गया, उसके बाद जयसूर्या ने तोबड़तोड़ अंदाज में कई बड़ी पारियां खेली। जिस वजह से वो एक समय दुनिया के सबसे खतरनाक ओपनर माने जाते थे।

4. शोएब मलिक

पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब मलिक अपने करियर की शुरुआत मात्र 17 साल की आयु में की थी। उस दौरान पाक की टीम में उन्हें बतौर स्पिन गेंदबाज शामिल किया गया था। उसके बाद जब उन्हें बल्लेबाजी करने का थोड़ा बहुत मौका मिलने लगा तो उन्होंने कई बेहतरीन पारियां खेली और वो मध्यक्रम के बेहतरीन बल्लेबाज बन गए।

5. शाहिद अफरीदी

शाहिद अफरीदी पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान है जिन्होंने 16 वर्ष की उम्र में बतौर स्पिन गेंदबाज इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू किया था। लेकिन अपने करियर के दूसरे ही वनडे मैच में श्रीलंका के खिलाफ मात्र 37 गेंदों पर शतक जड़कर चर्चा में आ गए थे। अफरीदी को पाक की टीम में स्पिन गेंदबाज के तौर पर शामिल किया गया था, लेकिन आगे चलकर उन्होंने अपनी टीम के लिए बल्ले से भी कई अच्छी पारियां खेली।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.