रिकॉर्ड
ऐसी और जानकारी सबसे पहले पाने के लिए हमसे जुड़े
WhatsApp Group Join Now

क्रिकेट में कई बार ऐसे रिकॉर्ड बन जाते हैं जिसके बारे में किसी ने पहले कभी सोचा भी नहीं होता है। इसी वजह से क्रिकेट को अनिश्चिताओं का खेल कहा जाता है, क्योंकि इस खेल के बारे में भविष्यवाणी करना बहुत मुश्किल काम है। आज हम आपको क्रिकेट इतिहास के उन 5 रिकॉर्ड के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके बारे में शायद ही कभी किसी ने सोचा होगा कि इस तरह के रिकॉर्ड भी कभी बन सकते हैं।

1. बांग्लादेश ने ऑस्ट्रेलिया को जल्दी किया आउट

पिछले साल बांग्लादेश और ऑस्ट्रेलिया के बीच एक टी-20 सीरीज खेली गई थी, जिसमे बांग्लादेश ने कंगारू टीम को 4-1 से सीरीज हरा दिया था। उस सीरीज के अंतिम मुकाबले में बांग्लादेश ने ऑस्ट्रेलिया को 13.4 ओवर में सिर्फ 62 रनों पर ऑल आउट कर दिया। इस तरह बांग्लादेश इंटरनेशनल क्रिकेट के किसी भी फॉर्मेट में कंगारू टीम को सबसे कम स्कोर पर आउट करने वाली टीम बन गई।

2. टेस्ट न खेलने वाली टीम विश्व कप के सेमीफाइनल में पहुंच गई

साल 2003 के विश्व कप में केन्या का प्रदर्शन बेहद शानदार रहा था और उस वर्ल्ड कप में आयरलैंड, अफगानिस्तान, बांग्लादेश और जिम्बाब्वे जैसी टीम जो टेस्ट क्रिकेट खेलती है वो सेमीफाइनल में जगह नहीं बना सकी थी। वहीं केन्या शानदार प्रदर्शन की वजह से सेमीफाइनल में पहुंच गई, लेकिन उस दौरान उन्हें भारत से हार का सामना करना पड़ा था।

3. वनडे क्रिकेट में शोएब अख्तर से ज्यादा गेंद फेंक चुके हैं सचिन

भारतीय टीम के पूर्व बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर गेंदबाजी भी करते थे। इस वजह से उनके नाम बहुत सारे विकेट भी दर्ज है। वनडे क्रिकेट में सचिन 8000 से अधिक गेंद फेंक चुके हैं, वहीं पाकिस्तान के पूर्व घातक तेज गेंदबाज शोएब अख्तर सिर्फ 7764 गेंदें फेंकी हैं।

4. भारत के लिए वनडे क्रिकेट सबसे तेज अर्द्धशतक

टीम इंडिया की तरफ से सबसे तेज अर्द्धशतक लगाने का रिकॉर्ड पूर्व तेज गेंदबाज अजित अगरकर के नाम है। क्योंकि साल 2000 में अजित अगरकर ने जिम्बाब्वे के खिलाफ एक वनडे मैच में 21 गेंदों पर अर्द्धशतक पूरा किया था, उस दौरान उन्होंने 25 गेंदों में कुल 67 रनों की पारी खेली थी।

5. एशिया में सबसे तेज टेस्ट शतक

पकिस्तान के पूर्व बल्लेबाज मिस्बाह-उल-हक एशिया के ऐसे क्रिकेटर है जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज शतक लगाया है। साल 2014 में अबूधाबी में पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया के बीच एक टेस्ट मैच खेला जा रहा था, जिसमे मिस्बाह-उल-हक ने मात्र 56 गेंदों पर शतक पूरा किया था और इस समय वो एशिया में सबसे तेज शतक लगाने वाले खिलाड़ी है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *