जो रूट

AUS vs ENG : दूसरी पारी में जो रूट रच सकते हैं इतिहास, सिर्फ इतने रन बनाते ही ऐसा करने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज बन जाएंगे

इंग्लैंड क्रिकेट टीम के कप्तान जो रूट इन दिनों ऑस्ट्रेलिया के साथ एशेज सीरीज का तीसरा मुकाबला खेल रहे हैं जिसमे उनकी टीम एक बार फिर खराब स्थिति में दिख रही है। क्योंकि इंग्लैंड टीम के कोई भी बल्लेबाज ऑस्ट्रेलिया की धरती पर रन नहीं बना पा रहे हैं और कंगारुओं की गेंदबाजी अटैक का सामना करने में कामयाब नहीं हो रहे हैं। इसी वजह से पिछले दोनों मैचों में ऑस्टेलिया ने अंग्रेजों की टीम को बुरी तरह हराया है जिसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती है।

इस सीरीज में जो रूट और डेविड मलान को छोड़कर कोई भी अन्य खिलाड़ियों के बल्ले से रन नहीं निकले हैं। यही कारण है कि ऑस्ट्रेलिया ने आसानी से इंग्लैंड को पटखनी दी है। कप्तान जो रूट इस एशेज सीरीज के तीनो मैचों में अर्द्धशतक लगा चुके हैं, इसके साथ ही उन्होंने कई बड़े रिकॉर्ड भी अपने नाम किए हैं। अब रूट के पास इतिहास रचने का मौका है, लेकिन इस के लिए इंग्लैंड की दूसरी पारी में जो रूट को अच्छी बल्लेबाजी करनी होगी।

जो रूट के पास है इतिहास रचने का मौका

हम सब जानते हैं साल 2021 अंतिम पड़ाव में हैं तथा ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच चल रहे तीसरा टेस्ट मैच भी इन दोनों टीमों के बीच इस साल का आख़िरी मैच होने वाला है। इस मैच की पहली इनिंग में जो रूट ने 50 रनों की पारी खेली थी, अब दूसरी पारी में रूट कम से कम 109 रन बना देते हैं तो वो टेस्ट क्रिकेट के एक कैलेंडर ईयर में सबसे अधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज बन जाएंगे।

जो रूट इस साल 15 टेस्ट मैचों की 28 पारियों में 62.22 की औसत से 1680 रन बनाए हैं, उस दौरान उन्होंने 6 शतक और 4 अर्द्धशतक जमाए हैं। वहीं इस सूची में पहले स्थान पर पाकिस्तान के पूर्व धाकड़ बल्लेबाज मोहम्मद युसफ है जिन्होंने 2006 में 11 टेस्ट मैचों की 19 पारियों में बल्लेबाजी करते हुए 99.33 की बेहतरीन औसत के साथ 1788 रन बनाए थे। उस दौरान युसूफ 9 शतक और तीन अर्द्धशतक जड़ दिए थे। वहीं दूसरे नंबर पर वेस्टइंडीज के पूर्व महान बल्लेबाज विवियन रिचर्ड्स मौजूद है, जिन्होंने साल 1976 में 90 की अच्छी औसत के साथ कुल 1710 रन जड़ दिए थे। उस दौरान उन्होंने 7 शतक और पांच अर्द्धशतक लगाया था।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.