विराट कोहली के साथ दादा Sourav Ganguly ने किया बुरा बर्ताव तो भड़के Ravi Shastri, खुलेआम कह दी ये बड़ी बात

विराट कोहली की कप्तानी को लेकर  विराट कोहली और BCCI अध्यक गांगुली  आमने सामने हैं और ये भी दिखाई दे रहा है की ये मामला काफी लंबा जाने वाला है अब इसी बीच BCCI के अध्यक्ष सौरव गांगुली को शास्त्री ने लताड़ लगाई है.

आपने इंटरव्यू में गांगुली ने कहा था कि विराट कोहली जब टी20 की कप्तानी छोड़ना चाहते थे, तब उन्होंने हमारी नहीं सुनी. हमने उन्हें रोका था, क्योंकि हम टी20 और वनडे के लिए अलग कप्तान नहीं चाहते थे. बाद में कोहली ने गांगुली की बात को झूठा साबित करते हुए कहा था कि उन्हें टी20 की कप्तानी छोड़ने से किसी ने नहीं रोका. अगर कोई रोकता तो मैं कप्तानी छोड़ता ही नही.

शास्त्री ने इंडियन एक्सप्रेस से कहा, ‘विराट ने कहानी का अपना पक्ष बताया है. इस पर बोर्ड अध्यक्ष (सौरव गांगुली) को अपनी कहानी का पक्ष रखने की जरूरत है. अच्छी बातचीत से स्थिति को और बेहतर तरीके से संभाला जा सकता था.’  शास्त्री ने ये भी कहा है की कप्तानी वाले मुद्दे को आराम से बैठकर सुलझाया भी जा सकता है

शास्त्री ने कहा, ‘बिना किसी संदेह के विराट कोहली को टेस्ट कप्तान चाहिए. दुनिया का कोई भी कप्तान इस तरह के जुनून के साथ आगे नहीं बढ़ता है.’ शास्त्री ने स्वीकार किया कि विराट को खुद में काफी हद तक देखते हैं.  जोश, कुछ करने की भूख और आत्मविश्वास, आप विराट में ये सब देखते हैं.’

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.