|

Cheteshwar Pujara अपनी खराब फार्म पर बोले – फॉर्म अस्थायी है लेकिन ‘क्लास’ स्थायी है’, कहा हमे टीम से बाहर ना निकालो

इंडिया और साउथ अफ्रीका में खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में कुछ खिलाड़ियों का प्रदर्शन इतना खराब रहा की क्रिकेट के फैन्स ने उन्हें टीम से बाहर निकालने को बोल दिया. टीम के दो दिग्गज खिलाड़ी अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा बेहद ही खराब फार्म से जुघ रहे है. खराब फार्म के चलते दोनों खिलाड़ियों को टीम से बाहर निकालने का दबाब बनाया जा रहा हैं.

दोनों की खराब फॉर्म के चलते क्रिकेटर दिग्गज भी तरह तरह की बयान बजी कर रहे हैं. ऐसे में चेतेश्वर पुजारा ने खुद की फॉर्म को लेकर ही एक बड़ा बयान दे दिया है. जिसमे उन्होंने खुद को टीम से बाहर ना निकालने की गुहार लगाई है. दूसरे टेस्ट मैच में पुजारा और रहाणे के अर्धशतकों और दोनों के बीच 111 रन की साझेदारी से भारत ने दक्षिण अफ्रीका को जीत के लिये 240 रन का लक्ष्य दिया.

अपनी खराब फार्म को लेकर पुजारा ने कहा ‘हां, ऐसा भी समय होता है जब आप खराब फॉर्म से गुजर रहे होते हो, इसमें सवाल उठेंगे लेकिन हम आत्मविश्वास से भरे खिलाड़ी हैं. मैं और अजिंक्य, हम जानते हैं कि हम अपने खेल के प्रति कड़ी मेहनत कर रहे हैं और एक कहावत है ‘फॉर्म अस्थायी है लेकिन ‘क्लास’ स्थायी है’ और यह यहां सटीक बैठती है.’

सुनील गावस्कर ने दोनों खिलाड़ियों का ये अंतिम मौका बताया था, सुनील ने कहा था की ये मौका दोनों खिलाड़ियों के लिए आखिरी मौका है. अगर ये इसमें अच्छा प्रदर्शन नही करते हैं तो टीम से बाहर किये जा सकते हैं.

 

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.