बचपन के ये 7 खेल जिनको हम खूब खेला करते थे, सिर्फ 90 के दशक के बच्चे ही पहचान पायंगे..

Advertisements

मोबाइल, लैपटॉप में जिन्दगी गुजारने वाले बच्चो की शायद ही इन खेलों के बारें में पता हो, लेकिन 90 के दशक के बच्चों की ये जिन्दगी थी, स्कूल से आने के बाद बस्ता रखकर पुरे दिन खेल खेलना समय के साथ सब छुट गया है.

कभी ये खेल हमारे सबसे पसंदीदा खेल हुआ करते थे लेकिन जैसे जैसे कंधो पर जिम्मेदारी का बोझ बढता गया वैसे वैसे ही ये खेल भी हमसे दूर होते गये आज की लाइफ से गुम होते ये खेलों को शायद ही आज कोई खेलता होगा। तो चलिए आज हम आपको आपके बचपन की उन यादों को ताजा करा देते हैं जो कभी हमारे जहन में हुआ करती थीं.

Advertisements

चुटपुटिया लाल रंग की स्टीकर की तरह दिखने वाली गोलियां जिसे दीवार पर रगड़कर फोड़ा करते थे

Image Source: Social

कंचे अपने दोस्तों के साथ पानी से दिखने वाले कंचे किसने नहीं खेले होंगे।

Advertisements
Image Source: Social

राजा-रानी क्लासरुम का फ्री आवर हो या घर पर दोस्तों की मंडली जमा हो..राजा-रानी-चोर-सिपाही का खेल खेलना तो जरुरी हो जाता था। 

Image Source: Social

गोटियां पांच पत्थर की गोटियां लेकर हाथों से उछालते हुए खेलने की यादें तो अभी भी आपके जेहन में ताजा होंगी। 

Advertisements
Image Source: Social

चिड़िया उड़ इसी प्रकार से चिड़िया उड़ भी एक मजेदार खेल था बचपन का

Image Source: Social

तो ये थे बचपन के कुछ खेल जिनको हम खूब खेला करते थे गर्मियों की छुट्टी में खूब खेला करते थे, आपको इनमे से कौनसा खेल पसंद हैं नीचे कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं

Advertisements

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.