बचपन के ये 7 खेल जिनको हम खूब खेला करते थे, सिर्फ 90 के दशक के बच्चे ही पहचान पायंगे..

Image Source: Social
Advertisement

मोबाइल, लैपटॉप में जिन्दगी गुजारने वाले बच्चो की शायद ही इन खेलों के बारें में पता हो, लेकिन 90 के दशक के बच्चों की ये जिन्दगी थी, स्कूल से आने के बाद बस्ता रखकर पुरे दिन खेल खेलना समय के साथ सब छुट गया है.

Advertisement

कभी ये खेल हमारे सबसे पसंदीदा खेल हुआ करते थे लेकिन जैसे जैसे कंधो पर जिम्मेदारी का बोझ बढता गया वैसे वैसे ही ये खेल भी हमसे दूर होते गये आज की लाइफ से गुम होते ये खेलों को शायद ही आज कोई खेलता होगा। तो चलिए आज हम आपको आपके बचपन की उन यादों को ताजा करा देते हैं जो कभी हमारे जहन में हुआ करती थीं.

चुटपुटिया लाल रंग की स्टीकर की तरह दिखने वाली गोलियां जिसे दीवार पर रगड़कर फोड़ा करते थे

Advertisement
Image Source: Social

कंचे अपने दोस्तों के साथ पानी से दिखने वाले कंचे किसने नहीं खेले होंगे।

Image Source: Social

राजा-रानी क्लासरुम का फ्री आवर हो या घर पर दोस्तों की मंडली जमा हो..राजा-रानी-चोर-सिपाही का खेल खेलना तो जरुरी हो जाता था। 

Image Source: Social

गोटियां पांच पत्थर की गोटियां लेकर हाथों से उछालते हुए खेलने की यादें तो अभी भी आपके जेहन में ताजा होंगी। 

Image Source: Social

चिड़िया उड़ इसी प्रकार से चिड़िया उड़ भी एक मजेदार खेल था बचपन का

Image Source: Social

तो ये थे बचपन के कुछ खेल जिनको हम खूब खेला करते थे गर्मियों की छुट्टी में खूब खेला करते थे, आपको इनमे से कौनसा खेल पसंद हैं नीचे कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं

Advertisement