|

दुल्हे ने की फॉर्च्यूनर कार, 20 लाख रूपये की डिमांड, पिता ने 80 बारातियों को दिए थे चांदी के सिक्के, शादी के जोड़े में बैठी रह गई PhD पास दुल्हन

Advertisements

हरियाणा के करनाल (Karnal) जिले में जींद से आई बारात थाने पहुंच गई. दरअसल शादी में लड़की के पिता से 20 लाख रुपए और फॉर्च्यूनर (Fortuner) की डिमांड की गई. पर ना देने के चलते फेरे से पहले शादी रुक गई और बारात सिविल लाइन थाने पहुंच गई. लड़की पीएचडी कर रही है, लड़का मेघालय में कृषि विभाग में वैज्ञानिक है. वहीं लड़की भी पंचकूला में शिक्षा विभाग में लीगल एडवाजर (कॉन्ट्रैक्ट) है. साथ के साथ उसकी लॉ में पीएचडी भी चल रही है.

जींद निवासी नसीब कृषि विभाग में सरकारी नौकरी पर लगा हुआ है. लड़की भी शिक्षा विभाग में कार्यरत है. दोनों सरकारी नौकरी पर हैं. कोमल के पिता NDRI में कार्यरत है. बेटी को उन्हीं ने पाल पोस के बड़ा किया है. पालन-पोषण के बाद पढ़ाई-लिखाई के बाद अब शादी करनाल में कर रहे थे. मूल रूप से लड़की वाले यूपी के रहने वाले हैं. जब रिश्ता तय हुआ तो किसी भी प्रकार की कोई डिमांड नहीं रखी गई.

Advertisements

वहीं समय पर फेरे न होने के बाद कोमल को बार-बार दौरा पड़ रहा है. लड़की के पिता ने बताया कि बारात के आने के बाद लग्न की रस्म होती है. उसमें होने वाले समधी को अंगूठी और दूल्हे को चेन पहनाई. जब वो लग्न की प्रक्रिया पूरी होने के बाद वहां से उठे तो तुरंत लड़के ने चेन गले से खींचकर फेंक दी. हम हाथ जोड़कर उनसे प्रार्थना करने लगे तो सामने आया कि लड़के के बहनोई व दूसरे भाई की भी चेन देनी चाहिए.

हमने दो दिन तक देने के लिए प्रार्थना की. वो मना करते हुए गाली-गलोच करने लग गए और फेरों पर आने से मना कर दिया. 20 लाख रुपए और फॉर्च्यूनर गाड़ी की डिमांड की गई. लंबे समय तक लड़का पक्ष के लोगों में खुसर-फुसर होती रही. हम उन्हें बुलाते रहे और वो हमें टालत रहे. मेरी बेटी एलएलबी, एलएलएम, पीएचडी है. वो जॉब करती है. जब किसी की बेटी को कोई ऐसे छोड़ दे तो कोई बाप क्या करे.

Advertisements

लड़की के पिता ने शादी पर ब्याज लेकर व्यवस्था की थी और 80 बारातियों को चांदी के सिक्के भी दिए थे. कोमल ने कहा रात 1 बजे की बात है वह स्टेज के लिए तैयार थी. तभी उसके पापा उसके पास आते हैं और बताते हैं कि बेटा इन्होंने चेन और अंगूठी फेंक दी.

पुलिस ने बताया कि सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची है. दोनों पक्षों को सुना जा रहा है. लड़की पक्ष गाड़ी, पैसे व गहनों की मांग करने का आरोप लगा रहे हैं. वहीं लड़का पक्ष ने बताया कि दहेज लेने से मना किया. उन्होंने चेन उतारकर दी थी कि 10 दिन बाद दे देना. उनके घर में झगड़ा नहीं होगा. इसी बात पर उनका झगड़ा हो गया. यदि परिजन शिकायत देंगे तो जांच की जाएगी.

Advertisements

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.