महेंद्र सिंह धोनी पर लग चुके हैं इन 4 खिलाड़ियों का करियर बर्बाद करने का आरोप, नंबर 3 के सामने गेंद करने से डरते थे बॉलर

धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया ने बड़े से बड़े मुकाम हासिल किये हैं. भारतीय टीम ने कई ऐसी ट्राफी उठाई हैं जिनको अभी तक कोई कप्तान उठाने में सफल नही हुआ है. धोनी की कप्तानी में कई खिलाडियों का करियर बना है लेकिन ऐसे कुछ खिलाड़ी है जिनका करियर बर्बाद भी हुआ है और उनके करियर बर्बाद करने का आरोप धोनी पर लगा है.

तो चलिए आज हम आपको उनको प्लेयर्स के बारे में बताते हैं जिनका करियर बर्बाद करने का आरोप धोनी पर लगा है

गौतम गम्भीर

गम्भीर ने टीम इंडिया को T-20 का विश्वकप जिताया था और इसके बाद  2011 के विश्वकप में भी गौतम ने एक महत्वपूर्ण पारी खेली थी लेकिन इसके बाद गम्भीर को टीम में जगह नहीं मिली और आज गम्भीर का करियर के तरह से ख़त्म हो गया है.  और उनके करियर को खत्म करने का आरोप धोनी पर लगते आये हैं.

रॉबिन उथप्पा

उथप्पा का करियर भी कहीं ना कहीं धोनी ने उस समय बर्बाद किया जब वह ट्वेंटी-20 का विश्वकप जीत चुके थे. रॉबिन को सही समय पर मौक़े नहीं दिए और आज इसलिए यह खिलाड़ी आईपील तक सीमित रह गया है.

वीरेंद्र सहवाग

शुरू से ही सहवाग का करियर खत्म करने के आरोप धोनी पर लगते आये है   जधोनी ने वैसे कोई निजी रंजिश तो नहीं निभाई क्योंकि धोनी ने वही किया जो टीम के लिए अच्छा था. लेकिन सहवाग का करियर ख़त्म करने का आरोप धोनी पर लगता है.

ज़हीर खान

आपको बता दें कि ऐसा बोला जाता है कि धोनी ने अपनी कप्तानी में ज़हीर खान का भी करियर ख़त्म करा दिया. ज़हीर खान के साथ बुरा यह हुआ कि इनको सन्यास भी टीम से बाहर निकलकर लेना पड़ा था. हरभजन सिंह

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.