आईपीएल 2022

भारत के इस राज्य में खेला जाएगा आईपीएल 2022 का पूरा सीजन, रिपोर्ट्स में हुआ बड़ा खुलासा, आप भी जानिए

भारत में कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए इंडियन प्रीमियर लीग 2022 पर खतरा मंडराने लगा है। इस वजह से अब बीसीसीआई की चिंता भी बढ़ गई है और अब उन्होंने आईपीएल 2022 का पूरा सीजन महाराष्ट्र में आयोजन करने का फैसला लिया है। इस संबंध में मिली जानकारी के लिए अनुसार इस बार आईपीएल के सभी मैच सिर्फ महाराष्ट्र में खेले जाएंगे, ताकि हर कोई कोरोना से सुरक्षित रह सके।

कोरोना महामारी के बाद भी बीसीसीआई इस बार आईपीएल का पूरा सीजन आयोजन करने की पूरी कोशिश कर रही है। इसी वजह से हाल ही में 5 जनवरी को बीसीसीआई के अंतरिम सीईओ तथा इंडियन प्रीमियर लीग के मुख्य परिचालन ऑफिसर ने एमसीए की एपेक्स काउंसिल की बैठक के दौरान इस संबंध में विजय पाटिल से बात की। आपको बता दें कि विजय पाटिल मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष हैं।

बीसीसीआई के प्रस्ताव को मिली हरी झंडी

खबरों से मिली जानकारी के अनुसार एमसीए की एपेक्स काउंसिल की बैठक के बाद बीसीसीआई के अंतरिम सीईओ और इंडियन प्रीमियर लीग के मुख्य परिचालन ऑफिसर ने शरद पवार से मुलाकात की। उसके बाद पवार की तरफ से बीसीसीआई को मंजूरी दे दी गई। उसके बाद अब बीसीसीआई और एमसीए के ऑफिसर इसकी अनुमति के लिए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे तथा वहां के मुख्य सचिव देबाशीष चक्रवर्ती से मुलाकात करेंगे।

वहीं कुछ जानकारी के अनुसार बीसीसीआई का कहना है कि महाराष्ट्र में भी कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। इस वजह से सभी खिलाड़ियों को बायो बबल में रहने के लिए कहा जाएगा। इसके अलावा कोरोना से बचने के सभी नियमों को सख्ती से अपनाने की सलाह दी जाएगी। अगर इंडिया में कोरोना की स्थिति लगातार बढ़ती जाती है तो उस स्थिति में इस वर्ष भी भारत से बाहर आईपीएल करवाया जा सकता है।

कोरोना के प्रक्रोप की वजह से लगातार पिछले दो सालों से इंडियन प्रीमियर लीग का आयोजन यूएई में करवाया गया था। वैसे पिछले साल भारत में आईपीएल की शुरुआत हुई थी, लेकिन कोरोना के बढ़ रहे मामलों की वजह से उस साल भी कुछ मैचों के बाद यूएई में बचे हुए शेष मुकाबलों का आयोजन करवाना पड़ा था। इस बार भारत में कोरोना की तीसरी लहर शुरू हो गई है जिस वजह से बीसीसीआई की चिंता अवश्य बढ़ गई होगी।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.