|

स्केटिंग कोच की चली गयी नौकरी फिर भी नही मानी हार, रोज 100km स्केटिंग करते हुए पहुंचा रहे खाना

कोरोना की वजह से लगे लॉकडाउन में हजारो लोग बेघर हो गए. लाखों लोगो की नौकरी ची गए और अब आधे से अधिक लोगो के सामने दो वक्त की रोजी-रोटी का संकट आ गया है. इन्ही में से एक थे दिल्ली के 28 साल मोहम्मद इस्माइल जो 10 साल से लोगो को स्केटिंग सिखा रहे थे लेकिन लॉकडाउन की वजह से सारा काम धंधा बंद हो गया.

रिपोर्ट के मुताबिक इस्माइल 9 वीं तक पढ़े हैं पुरानी दिल्ली के तुर्कमान गेट के रहने वाले हैं. लॉकडाउन से पहले इस्माइल अजमेरी गेट, शाहदरा और वसुंधरा एंक्लेव में स्केटिंग इंस्ट्रक्टर के तौर पर लोगों को स्केटिंग सिखाते थे लेकिन लॉकडाउन के बाद बेरोजगार हो गए हैं. और अब उनके पास नौकरी के ज्यादा आप्शन नही बचे हैं.

लॉकडाउन में स्केटिंग सिखाने का काम बंद हुआ तो इस्माइल ने अपने सेविंग से खर्चा चलाया लेकिन अब सेविंग खत्म होने के बाद दो वक्त की रोटी का संकट नजर आ रहा है तो उन्होंने स्विगी में डिलीवरी बॉय की नौकरी करने लगे.

अब इस्माइल स्केटिंग करके लोगो के घर तक खाना पहुचाते हैं और प्रतिदिन 100km से ज्यादा स्केटिंग करते हैं.10 घंटे लगातार काम करते हैं तो उन्हें दिन के 800 मिलते हैं.

डिलीवरी के शुरू के काम में वह स्कूटर से जाते थे. लेकिन, वह भी खराब हो गया जो उन्होंने लोन पर लिया था जिसकी अभी 10 हजार की क़िस्त भी बाकी है.

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.