गौतम गंभीर

IND vs SA : गौतम गंभीर ने किया बड़ा खुलासा, जसप्रीत बुमराह नहीं बल्कि इस खिलाड़ी को बताया टीम इंडिया का सबसे खतरनाक गेंदबाज

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीसरा और अंतिम टेस्ट मैच केपटाउन के मैदान पर खेला जा रहा है। इस मुकाबले को जीतने के लिए दोनों ही टीमों द्वारा बेहतरीन प्रदर्शन करने की कोशिश की जा रही है। इस टेस्ट मैच में भारतीय कप्तान विराट कोहली और युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत के अलावा कोई भी खिलाड़ी अच्छी बल्लेबाजी करने में सफल नहीं रहे।

वही भारतीय गेंदबाजों ने इस टेस्ट मैच में अच्छी गेंदबाजी की है। पहली पारी में टीम इंडिया के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने सबसे अधिक पांच विकेट झटके। वहीं उमेश यादव और मोहम्मद शमी को भी दो-दो विकेट हासिल हुआ। उसके बाद शार्दुल ठाकुर भी एक विकेट चटकाने में सफल रहे। यही कारण है कि मेजबान टीम पहली इनिंग में सिर्फ 210 रन बना पाई, जिस वजह से भारत को 13 रन से बढ़त मिला।

गंभीर ने इसे बताया सबसे बेहतर गेंदबाज

शायद आपको मालूम होगा कि जब दक्षिण अफ्रीका की टीम पहली पारी में बल्लेबाजी कर रही थी, तो उस दौरान मोहम्मद शमी ने एक ही ओवर में तेम्बा बावुमा और विकेटकीपर बल्लेबाज काइल वेरेयन को पवेलियन का रास्ता दिखाया। इसी वजह से मेजबान टीम पहली पारी में बढ़त बनाने में सफल नहीं रही।

शमी की उस बेहतरीन गेंदबाजी के बाद गौतम गंभीर उनकी तारीफा करते हुए कहा कि वो डर से अधिक पूरे दिन घातक गेंदबाजी करते हुए नजर आता है। इस टेस्ट और इस मैच में भी वो जिस तरह गेंद डाल रहा है, उससे बल्लेबाजों से भी सवाल पूछता रहता है। आप शीर्ष के किसी भी बल्लेबाजों से पूछिए, उनमें से कोई भी शमी का सामना करना पसंद नहीं करेगा। क्योंकि मोहम्मद शमी स्टंप के बहुत ज्यादा नजदीक गेंदबाजी करता है। अधिकतर उन्हें ऑफ स्टंप के आसपास देखा जाता है, क्योंकि वहाँ से उन्हें गति भी प्राप्त होती है और बल्लेबाजों के बल्ले से किनारा भी लगता है।

उसके बाद पूर्व भारतीय ओपनर गौतम गंभीर ने मोहम्मद शमी को दुनिया का सबसे बेहतरीन टेस्ट गेंदबाज बताते हुए कहा कि मुझे ऐसा प्रतीत हो रहा है कि मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह दुनिया के किसी भी बल्लेबाज को चुनौती देने में सक्षम है। लेकिन उन दोनों में से मेरे लिए सबसे अधिक खतरनाक मोहम्मद शमी है, खासकर रेड-बॉल क्रिकेट में वो सबसे अच्छे गेंदबाज है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.