शिखर धवन और महेंद्र सिंह धोनी
ऐसी और जानकारी सबसे पहले पाने के लिए हमसे जुड़े
WhatsApp Group Join Now

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच चल रहे तीन मैचों की वनडे सीरीज का पहला मुकाबला खेला जा चुका है, जिसमे मेजबान टीम को 31 रनों से शानदार जीत हासिल की है। इसी के साथ साउथ अफ्रीका की टीम इस वनडे श्रृंखला में 1-0 से आगे चल रही है। अब इस वनडे सीरीज में सिर्फ दो मुकाबले बचे हुए हैं और उस दौरान भारत को किसी भी हाल में दोनों मैच जीतना होगा। उसके बाद ही इस ओडीआई श्रृंखला को टीम इंडिया अपने नाम कर पाएगी।

शिखर धवन ने इस मामले में धोनी को छोड़ा पीछे

साउथ अफ्रीका के खिलाफ पहले वनडे मैच में टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने 84 गेंदों का सामना करते हुए 79 रनों की बेहतरीन पारी खेली है, जिसमे उनके बल्ले से 10 चौके भी निकले हैं। इसी के साथ महेंद्र सिंह धोनी का एक रिकॉर्ड भी तोड़ दिया है। बता दें कि पूर्व भारतीय कप्तान एमएस धोनी दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ कुल 37 वनडे मैचों की 32 पारियों में बल्लेबाजी करते हुए 31.92 की औसत और 87.36 की स्ट्राइक रेट से कुल 830 रन बनाए हैं। उस दौरान धोनी के बल्ले से 4 अर्द्धशतक देखने को मिला है। वनडे क्रिकेट में साउथ अफ्रीका के खिलाफ उनका सबसे बड़ा स्कोर नॉट आउट 92 रन है।

अब शिखर धवन दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सबसे अधिक रन बनाने के मामले में महेंद्र सिंह धोनी को पीछे छोड़ दिया है। क्योंकि धवन साउथ अफ्रीका के विरुद्ध 19 वनडे मैचों की 18 पारियों में बल्लेबाजी करते हुए 51.58 की औसत और 96.47 की स्ट्राइक रेट के साथ 877 रन बना चुके हैं। उस दौरान धवन के बल्ले से 3 शतक और 5 बेहतरीन अर्द्धशतक निकले हैं। दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध शिखर धवन का सबसे बड़ा स्कोर 137 रन है।

दक्षिण अफ्रीका दौरे से पहले शिखर धवन को लेकर बहुत सारी ख़बरें आ रही थी और उस दौरान कहा जा रहा था कि उन्हें अब टीम में जगह नहीं दिया जाएगा। क्योंकि विजय हजारे ट्रॉफी में उनके बल्ले से रन नहीं निकले हैं तथा उनकी आयु बढ़ती जा रही है, लेकिन फिर भी चयनकर्ताओं ने उन्हें टीम में जगह दी है और उसका पूरा लाभ धवन ने उठाया है। शिखर धवन वनडे क्रिकेट के बहुत बड़े बल्लेबाज है, क्योंकि उन्होंने क्रिकेट के इस फॉर्मेट में हमेशा अच्छी बल्लेबाजी की है। यही कारण है कि धवन को बार-बार वनडे टीम में जगह दी जाती है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *