भारतीय टीम

IND vs SA : वनडे सीरीज के लिए भारतीय टीम में इन 4 खिलाड़ियों को मिलना चाहिए था मौका, नंबर 1 हार्दिक से भी खतरनाक ऑलराउंडर है

भारतीय चयनकर्ताओ ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ 19 जनवरी से शुरू होने वाली 3 वनडे मैचों की सीरीज के लिए टीम इंडिया का ऐलान कर दिया है। उस टीम में कई नए चेहरे को मौके दिए हैं, लेकिन कुछ ऐसे खिलाड़ियों को नजरअंदाज किया गया है जो टीम में जगह पाने के हकदार थे।

आपको बता दें कि वनडे क्रिकेट में रविचंद्रन अश्विन की वापसी हुई है जबकि कप्तान रोहित शर्मा को बाहर कर दिया गया है, क्योंकि वो पूरी तरह से फिट नहीं है तो चलिए आज हम आपको उन 4 खिलाड़ियों के बारे में बताते हैं जिन्हें साउथ अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए भारतीय टीम में जगह मिलना चाहिए था। लेकिन चयनकर्ताओ ने उन्हें नजरअंदाज किया।

1. ऋषि धवन

ऋषि धवन एक बेहतरीन ऑलराउंडर है जो तेज गति से गेंदबाजी के साथ-साथ तूफानी अंदाज में बल्लेबाजी भी करते हैं। हाल ही समाप्त हुए विजय हजारे ट्रॉफी में धवन ने 8 मैचों में 76.33 की औसत से सबसे अधिक 458 रन बनाए हैं और रन बनाने के मामले में वो दूसरे स्थान पर थे। इसके अलावा बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए 8 मुकाबलों में 17 विकेट भी झटके हैं और विकेट लेने के मामले में भी ऋषि धवन दूसरे स्थान पर थे, लेकिनं फिर भी चयनकर्ताओ ने उन्हें नजरअंदाज किया।

2. हर्षल पटेल

हर्षल पटेल दाएं हाथ से मध्यम गति से गेंदबाजी करते हैं और उन्होंने आईपीएल 2021 में रॉयल चेलेंजर्स बैंगलोर की टीम के लिए शानदार प्रदर्शन किया था। इसके अलावा उन्होंने उस दौरान सबसे अधिक विकेट झटके लिया था, लेकिन फिर भी चयनकर्ताओ ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ होने वाली वनडे सीरीज के लिए टीम इंडिया में उन्हें जगह नहीं दी है।

3. मोहम्मद शमी

मोहम्मद शमी के पास इंटरनेशनल क्रिकेट खेलने का बहुत बढ़िया मौका है, क्योंकि उन्होंने 79 वनडे मैचों में 25.63 की औसत से 148 विकेट चटकाए हैं। इस वजह से दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ होने वाली वनडे सीरीज के लिए शमी को टीम होना चाहिए था।

4. आवेश खान

आईपीएल 2021 में आवेश खान दिल्ली कैपिटल्स की टीम के लिए शानदार गेंदबाजी के है, क्योंकि उस दौरान उन्होंने बड़े-बड़े बल्लेबाजों को आउट किया है। इस वजह से दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की वनडे सीरीज के लिए उन्हें भी मौका मिलना चाहिए था।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.