|

29 साल में एक बार भी साउथ अफ्रीका में एक भी टेस्ट सीरीज नहीं जीत सका भारत, रोहित शर्मा कप्तानी में रच सकते है इतिहास, आंकड़ों पर एक नजर

Advertisements

3 साल बाद टीम इंडिया 26 दिसंबर से साउथ अफ्रीका के दौरे पर तीन टेस्ट मैचों की सीरीज खेलेगी। इसके पहले भारत ने जनवरी 2018 में साउथ अफ्रीका का दौरा किया था। दोनों टीमों के बीच अब तक 39 टेस्ट खले गए हैं, जिसमें से भारत ने 14 तो वहीं दक्षिण अफ्रीका ने 15 टेस्ट जीते। जबकि 10 मैच ड्रॉ हुए। भले ही ये आंकड़े दोनों टीमों के पक्ष में लगभग बराबर नजर आते हैं।

लेकिन दक्षिण अफ्रीका में भारत का हार-जीत का रिकॉर्ड बेहद खराब हो जाता है। वहां पर भारतीय टीम ने 20 टेस्ट मैच खेले हैं। जिसमें से उनको केवल 3 बार जीत हासिल हुई। जबकि 10 बार हार का मुंह देखना पड़ा। बाकी बचे 7 मैच ड्रॉ के साथ खत्म हुए।

Advertisements

साउथ अफ्रीका की सरजमीं पर टीम इंडिया ने आखिरी बार 2018 में तीन टेस्ट मैचों की सीरीज खेली थी, जहां उनको 1-2 से हार का सामना करना पड़ा था। 1992 से अब तक भारत ने दक्षिण अफ्रीका में 7 टेस्ट सीरीज खेली है। जिसमें से 6 सीरीज भारत को गंवानी पड़ी, वहीं एक बार सीरीज बराबरी पर खत्म हुई।

सबसे पहले 1992 में भारत ने साउथ अफ्रीका के साथ 4 टेस्ट मैच की सीरीज खेली थी, जिसे प्रोटियाज ने 1-0 से अपने नाम की थी। जबकि तीन मैच ड्रॉ हुए थे। इसके बाद 1996 में भारतीय टीम को तीन टेस्ट मैच की श्रृंखला 2-0 से गंवानी पड़ी। 2001 में खेली गई 2 मैचों की सीरीज पर दक्षिण अफ्रीका ने 1-0 से कब्जा किया।

Advertisements

इसके 5 साल बाद 2006 में भारत ने दक्षिण अफ्रीका का दौरा किया। उस दौरे पर 3 टेस्ट मैचों की टेस्ट सीरीज का आयोजन हुआ। लेकिन नतीजा एक बार फिर दक्षिण अफ्रीका के पक्ष 2-1 से गया। साउथ अफ्रीका जाकर लगातार चार टेस्ट सीरीज हारने के बाद 2010 में भारत पहली बार श्रृंखला ड्रॉ करने में सफल रहा। इस बार तीन टेस्ट मैच की सीरीज 1-1 की बराबरी पर खत्म हुई।

इसके बाद 2013 में भारत को 1-0 और 2018 में 2-1 से हार का सामना करना पड़ा। अब तीन साल टीम इंडिया एक बार फिर साउथ अफ्रीका की धरती पर तीन टेस्ट मैच की सीरीज खेलेगी। इस बार विराट कोहली की टोली के पास वहां पर अपनी पहली टेस्ट सीरीज जीतकर 29 साल के इतिहास को बदलने का सुनहरा मौका होगा।

Advertisements

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.