4 अप्रैल 2022 को लखनऊ सुपर जायन्ट्स और सनराईजर्स हैदराबाद के बीच आईपीएल 20222 का 12 वां मुकाबला खेला गया था। लखनऊ की टीम ने 12 रन के अंतर से जीता। इस मैच में लखनऊ की टीम ने पहले बल्लेबाजी की थी, और SRH को 170 रन का लक्ष्य दिया था, लेकिन इस मैच में SRH इस लक्ष्य को हासिल नहीं कर सकी और अंत में 12 रनों से हैदराबाद की टीम इस मैच में हार गई थी।

इस मैच में SRH टीम के कप्तान केन विलियमसन ने 16 गेंद का सामना करते हुए 16 रन बनाये थे, जिसके बाद वो अपनी पारी के चौथे ओवर में आवेश खान की गेंद पर एंड्रयू टाई के द्वारा कैच आउट हो गये थे। लेकिन अब इसी गेंद पर केन विलियमसन के आउट होने को लेकर एक विवाद सामने आया है। जिसकी शिकायत SRH टीम ने BCCI से भी की है।

इस विवाद को लेकर इस समय सोशल मिडिया पर एक तस्वीर जमकर वायरल हो रही है। जिसमे कहा जा रहा है की जब केन विलियमसन आउट हुए थे, उस समय 30 गज के घेरे के बाहर केवल 3 फील्डर मौजूद थे। जबकि पॉवर प्ले में 30 गज से बहार दो फील्डर्स की अनुमति होती है। और ऐसे में अंपायर No Ball करार देकर विलियमसन को नॉट आउट दिया जा सकता था। लेकिन इस समय जब आवेश खान की तेज गेंद पर केन विलियमसन ने शोर्ट फाइन लेग के उपर से शॉट खेला था, तब गेंद ज्यादा लम्बाई तय नहीं कर सकी थी। ये गेंद हवा में उची उठ गई थी।

जिस वजह से वहां मौजूद फील्डर ने एंड्रयू टाई ने ये आसान सा कैच पकड लिया था। लेकिन अब देखना होगा की BCCI इस विवाद को लेकर क्या फैसला लेती है। वैसे आपको बता दे की इससे पहले 29 मार्च को राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ खेले गये मैच में भी केन विलियमसन के कैच को लेकर विवाद हुआ था। जिसमे सभी लोगो ने थर्ड अंपायर की गलती मानी थी। तब हैदराबाद की टीम को 61 रन से हार का सामना करना पड़ा।

दरअसल, इस मैच में एक गेंद केन विलियमसन के बल्ले के बाहरी किनारे से लगकर संजू सैमसन के हाथो में चली गई थी लेकिन उनसे वो गेंद फिसल गई थी। जिसे तुरंत ही देवदत पडिक्क्ल ने लपक लिया था। लेकिन जब रीप्ले में देखा गया तब गेंद जमीन को टच कर चुकी थी। इसके बावजूद भी थर्ड अंपायर ने ओरिजिनल डिसीजन आउट कद दिया था।

Kuldeep Kumar

Journalist from Moradabad. At @News Desk he report, write, view and review Crcicket News. Can be reached at [email protected] with Subject line starting Kuldeep

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *