बीसीसीआई सचिव जय शाह का बड़ा बयान, महिला क्रिकेटरों के जल्द शुरू होगी आईपीएल जैसी लीग, सभी देश की महिला खिलाड़ी ले सकती हैं भाग

भारत में हर साल होने वाली लीग IPL दुनिया भर में मसहूर है. इस लीग में दुनिया भर के खिलाड़ी भाग लेते हैं, आईपीएल में सिर्फ पुरुष खिलाड़ी ही खेल सकते है,  लेकिन अब महिला क्रिकेटर के लिए भी आईपीएल कराए जाने की मांग की गयी है क्योंकि इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया देशी में होने वाली लीग को काफी लोकप्रियता मिलती है.

ऑस्ट्रेलिया में हुई महिला बिग बैश लीग काफी लोकप्रिय रही है, बिग बैश लीग में भारत की 8 महिला खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया और बहुत अच्छा प्रदर्शन भी किया है  हरमनप्रीत कौर को 15 विकेट व 399 रन बनाने के चलते प्लेयर ऑफ द सीरीज के पुरुस्कार से नवाजा गया था, इसके साथ साथ हरमनप्रीत ऐसा करने वाली पहली खिलाड़ी बन गई हैं.

हिंदुस्तान टाइम्स को दिए इंटरव्यू में बीसीसीआई  अध्पुयक्ष्टिष जय शाह ने बताया की कि बोर्ड निकट भविष्य में महिला खिलाड़ियों के लिए आईपीएल जैसी एक लीग आयोजित करने की दिशा में काम कर रहा है।

100mb की रिपोर्ट के मुताबिक जय शाह ने कहा की

महिला टी20 चैलेंज में फैंस की काफी दिलचस्पी देखने को मिली है और यह एक उत्साहित करने वाली चीज है। हम सभी चाहते हैं कि महिला क्रिकेटरों के लिए आईपीएल जैसी लीग हो। लेकिन ये ऐसा नहीं है कि तीन-चार टीमें इकट्ठा की जाएं और महिला आईपीएल को लॉन्च कर दिया जाए।”

शाह ने कहा, “इसमें कई सारे फैक्टर मायने रखते है जैसे की एक विंडो (टूर्नामेंट के लिए समय), विदेशी खिलाड़ियों की उपलब्धता, दो बोर्ड के बीच द्विपक्षीय करार, ये कुछ मुद्दे है। हम सभी विकल्पों पर ध्यान दे रहे हैं और भविष्य में अपनी महिला खिलाड़ियों के लिए इसी तरह की लीग आयोजित करने पर काम कर रहे है। स्मृति मांधना, हरमनप्रीत कौर जैसी खिलाड़ी इस बारे में खुलकर बोलती रही है कि भारत की अपनी खुद की महिला लीग हो और इस बारे में भी कि इससे देश की क्रिकेट को कितना फायदा मिलेगा।”

शाह ने विदेशी टी20 लीगों में अच्छा करने वाली भारत की बाकी खिलाड़ियों की तारीफ करते हुए कहा, “आईपीएल जैसी लीग होना निश्चित तौर पर हमारी खिलाड़ियों को मदद करेगा क्योंकि इससे उन्हें विदेशी खिलाड़ियों के साथ खेलने का मौका मिलेगा। स्मृति और हरमनप्रीत के अलावा भारत की बाकी खिलाड़ियों ने भी विदेशी टी20 लीगों में अच्छा प्रदर्शन किया है। द हंड्रेड और डब्ल्यूबीबीएल में दीप्ति शर्मा, जेमिमा रोड्रिगेज, शेफाली वर्मा और पूनम यादव ने विदेशी लीगों में शानदार काम करके दिखाया है और ये भारत में रोल मॉडल हैं। उनका वहां खेलना निश्चित तौर पर उनके आत्मविश्वास को बढ़ाएगा।”

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.