|

KBC में 5 करोड़ जीतते ही नर्क हो गई थी सुनील की जिंदगी, हुआ दिवालिया, पत्नी भी छोड़ गई, अब सड़को पर गुजार रहा दिन

KBC अमिताभ बच्चन का एक ऐसा शो है जिसमे लोगो को रातों रात जमीन से उठाकर स्टार बना दिया है, कई लोगो को रोडपति से करोड़पति भी बना दिया है आज हम आपको  केबीसी 5 के विजेता रहे बिहार के सुशील कुमार (Sushil Kumar) की एक कहानी के बारे में बताने जा रहे हैं, की कैसे सुनील 5 करोड़ रूपये जित्नेके बाद बर्बाद हो गये.

सुशील कुमार पहले ऐसे प्रतियोगी थे जिन्होंने 2011 में इतनी राशि जीती थी। बिहार में एक मिडिल क्लास फैमिली से ताल्लुक रखने वाले सुशील 5 करोड़ जीतते ही लोकल सेलिब्रिटी बन गए थे। उन्हें अपना सपना साकार होता दिखने लगा था। हालांकि, ऐसा नहीं था। सुशील रुपयों को सही तरीके से इन्वेस्ट नहीं कर पाए और जल्द ही दिवालिया हो गए।

उन्होंने बताया था- केबीसी जीतने के बाद मेरी जिंदगी का सबसे बुरा समय शुरू हुआ था। 2015-2016 मेरे जीवन का सबसे चुनौती पूर्ण समय था, कुछ समझ नहीं रहा था क्या करें। लोकल सेलेब्रिटी होने के कारण महीने में दस से पंद्रह दिन बिहार में कहीं न कहीं कार्यक्रम जाना होता था। इसलिए पढ़ाई लिखाई धीरे-धीरे दूर होती गई।

सुशील ने बताया था- उस दौरान मीडिया को लेकर मैं बहुत ज्यादा सीरियस रहा करता था और मीडिया जो पूछती थी मैं बता देता था। मुझे उस वक्त मीडिया से बात करने का तरीका नहीं पता था। मैं उन्हें बता देता था कि कौन सा बिजनेस कर रहा हूं ताकि उन्हें लगे कि मैं बेकार नहीं हूं। इसका नतीजा यह होता था कि बिजनेस कुछ दिन बाद डूब जाता था।

सुशील चैरिटी में सक्रिय रूप से शामिल हो गए लेकिन बाद में उन्हें अहसास हुआ कि यह सब दिखावा था। इससे उनके पत्नी के साथ संबंधों में भी खटास आ गई। उन्होंने लिखा था- केबीसी के बाद मैं दानवीर बन गया था और मुझे गुप्त दान का चस्का लग गया था। महीने में लगभग 50 हजार रुपए से ज्यादा ऐसे ही कामों में चले जाते थे। इस वजह से कई बार लोगों ने मुझे धोखा दिया, जिसका पता मुझे दान करने के बाद लगा। पत्नी अक्सर कहती थी कि मुझे नहीं पता कि सही और गलत लोगों के बीच अंतर कैसे किया जाता है और मुझे फ्यूचर की कोई चिंता नहीं थी। हम अक्सर इस पर लड़ते रहते थे।

सुशील शराब की लत से भी जूझ रहे थे। उन्होंने बताया था- मेरा नेचर बिजनेस करने का था तो मैं मीडिया में पढ़ने वाले कुछ लड़कों के संपर्क में आया। कुछ थिएटर आर्टिस्ट से भी मेरा परिचय हुआ। हालांकि, जब ये स्टूडेंट्स और आर्टिस्ट किसी विषय के बारे में बात करते थे, तो मुझे डर लगता था और मुझे अहसास होता था कि मुझे इन विषयों के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है। फिर धीरे-धीरे मुझे शराब और सिगरेट पीने की लत लग गई। जब भी मैं दिल्ली में एक हफ्ते के लिए रुकता था, मैं अलग-अलग ग्रुप के साथ शराब पीता और स्मोक करता था। मुझे उनकी बातें अट्रैक्ट करती।

बाद में उन्होंने मीडिया के सामने खुलासा किया कि वो दिवालिया हो गए हैं, जिसके बाद लोगों ने उन्हें इवेंट में बुलाना बंद कर दिया। उन्होंने बताया था- मैं दिवालिया कैसे हो गया…? आपको कहानी थोड़ी फिल्मी लगेगी। जब मैं एक दिन टहल रहा था, एक अंग्रेजी अखबार के एक पत्रकार ने मुझे फोन किया। जब सब कुछ ठीक चल रहा था, अचानक उसने मुझसे कुछ पूछा जिससे मैं चिढ़ गया, तो मैंने अचानक उसे बताया कि मेरे सारे पैसे खत्म हो गए हैं और मेरे पास दो गाय हैं और दूध बेचकर उससे कुछ पैसे कमाकर काम चला रहा हूं। उसके बाद जो उस न्यूज का असर हुआ उससे आप सभी तो वाकिफ होंगे ही। उस खबर ने अपना असर दिखाया, धोखेबाज मुझसे कन्नी काटने लगे। मुझे लोगों ने कार्यक्रमों में बुलाना बंद कर दिया और तब मुझे समय मिला की अब मुझे क्या करना चाहिए।

 

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.