इस अनोखे पेड़ की सुरक्षा में 24 घंटे तैनात रहती है पुलिस, एक साल की रखवाली पर खर्च होते हैं 15 लाख

Advertisements

आपने देखा होगा करोबारी, उद्योगपति, नेता आदि की सुरक्षा के लिए सिक्यूरिटी लगा दी जाती है. इनमे से सबसे बड़ी सिक्यूरिटी देश के प्रधानमंत्री और उनके परिवार को दी जाती है. जिसपर साल के अरबों खरबों रूपये खर्च किये जाते हैं.

किसी भी आम इन्सना पर सिक्यूरिटी नही लगई जाती है लेकि एक पेड़ की सुरक्षा के लिए सरकार साल के 15 लाख रूपये उड़ा देती है. इस पेड़ को सुरक्षा प्रदान करने के लिए सरकार पुलिस तैनात करती हैं. ताकि कोई इस पेड़ को हानि ना पहुचाएं.

Advertisements
इमेज : सोशल मीडिया

 

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल और विदिशा के बीच सलामतपुर की पहाड़ी पर एक ऐसा पेड़ है, जिसे किसी वीआईपी नेता की तरह सुरक्षा दी जाती है।

इमेज : सोशल मीडिया

इस पेड़ की सुरक्षा के लिए 24 घंटे 4 से 5 सिपाही बंदूक ताने खड़े रहते है एवं  सिंचाई के लिए सांची नगरपालिका की ओर से अलग से एक पानी का टैंकर आता है और हर सप्ताह न विभाग के अधिकरी आकर इस पेड़ की जांच भी करते हैं

Advertisements
इमेज : सोशल मीडिया

यह एक पीपल का पेड़ है, जिसे बोधि वृक्ष के नाम से जाना जाता है। साल 2012 में जब श्रीलंका के तत्कालीन राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे ने भारत का दौरा किया था, उसी दौरान उन्होंने यह पेड़ लगाया था।

इमेज : सोशल मीडिया

जिस पेड़ के नीचे भगवान बुद्ध को ज्ञान की प्राप्ति हुई थी पेड़ बिहार के गया जिले में है। इस पेड़ को कई बार नष्ट करने का भी प्रयास किया गया था, लेकिन चमत्कारी रूप से ये पेड़ हर बार उग आता है. कहा जाता है 1876 में आई आपदा में ये पेड़ नष्ट हो गया था बाद में 1880 में अंग्रेज अफसर लॉर्ड कनिंघम ने श्रीलंका के अनुराधापुरम से बोधिवृक्ष की शाखा मंगवा कर उसे बोधगया में फिर से स्थापित कराया था। तब से वह वृक्ष आज भी वहां मौजूद है।

Advertisements

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.