आईपीएल का उदघाट्न संस्करण साल 2008 में खेला गया। तब से लेकर अब तक इस टूर्नामेंट के 14 सीजन खेले जा चुके है और 15 वां सीजन इस साल भारत में ही महाराष्ट्र के दो शहरों मुंबई और पुणे में खेला जा रहा है। इस बार आईपीएल में 8 नहीं बल्कि 10 टीमें हिस्सा ले रही है। जिसमे दो नई टीमें लखनऊ सुपर जायन्ट्स और गुजरात टाइटन्स है। और अब इन सभी 10 टीमों के बीच काफी दिलचस्प मुकाबले खेले जा रहे है।

इस क्रिकेट लीग ने साल 2008 से लेकर अब तक ना केवल कमाई में दिन दो गुना रात चौ गुना तरक्की की है, बल्कि इसके माध्यम से क्रिकेट जगत को कई स्टार प्लेयर भी मिले है। जिस वजह से आज ये क्रिकेट लोग दुनिया में सबसे ज्यादा देखो जाने वाली क्रिकेट लीग है। इतना ही नहीं आज आईपीएल दुनिया की सबसे महंगी ब्रांड लीग बन चुकी है। जी हां, आपको ये जानकर हैरान होगी की इस साल राजस्थान की तरफ से अमेरिकी NBA और NFL बड़े जैसे सुपरस्टार्स ने भी इसमें निवेश किया हुआ है।

इसी के चलते आज हम आपको ये बताने वाले है की BCCI द्वारा आयोजित इस आईपीएल क्रिकेट लीग की ब्रांड वेल्यु कितनी है?? इसमें हिस्सा लेने वाली टीम की ब्रांड वेल्यु कितनी है?? और ये हर साल कैसे करोड़ो की कमाई करती है।

1. आईपीएल की ब्रांड वैल्यू:-

एक रिपोर्ट के मुताबिक साल 2019 में इस लीग की ब्रांड वेल्यु 47500 करोड़ रूपये बताई गई थी। इसके बाद कोरोना संकट के चलते हुए पिछले दो साल में इस लीग की ब्रांड वेल्यु में 4.7% का इजाफा हुआ था। विशेषज्ञों के अनुसार साल 2021 में इसकी ब्रांड वेल्यु 35950.53 बताई गई थी। बाकी इस साल का डाटा अभी उपलब्ध नहीं है, लेकिन उम्मीद है की इस साल भी इसकी कीमत कई गुना बढेगी।

2.आईपीएल प्रयोजन से होती है मोटी कमाई:-

यदि आप आईपीएल देखते है, तो आपने पिछले साल देखा होगा की ट्रॉफी पर विवो कम्पनी के रिबन लगे हुए थे। जिसका मतलब था की इसका प्रायोजक या स्पोंसर टाइटल विवो था। लेकिन इस साल 2022 में इसका स्पोंसर टाइटल TATA ग्रुप ऑफ कम्पनी है। इसके लिए TATA ग्रुप ऑफ कम्पनी BCCI को सालाना 355 करोड़ रूपये देगी। इनका ये कांट्रेक्ट दो साल के लिए हुआ हुआ जिसमे कम्पनी को टोटल 670 करोड़ चुकाएंगी।

3. मिडिया राइट्स से भी होती है तगड़ी कमाई:-

जी हां, आपको बता दे की आईपीएल के मैचो का लाइव प्रसारण के लिए BCCI मिडिया राइट्स करोड़ो रूपये में बेचती है। साल 2018 से लेकर 2022 तक के लिए मिडिया राइट्स 16347.50 करोड़ में बिकते थे। वही, अब अगले 5 साल के लिए इसका मिडिया राइट्स अगले महीने में बिकने वाला है।

4.एसोसिएट स्पोंसरशिप:-

टाइटल स्पोंसर के अलवा आईपीएल में एसोसिएट स्पोंसरशिप भी होती है। जिसमे अलग अलग कई कम्पनी अपने विज्ञापन देती है। जैसे इस साल इसकी एसोसिएट स्पोंसरशिप Unacademy, क्रेड, रुपे, सिग्वी और UPSTOX के पास है। इससे BCCI को लगभग 220 करोड़ की रकम हासिल होती है।

5. अंपायर की टी शर्ट पर विज्ञापन:-

आईपीएल में जब कोई अंपायर, अंपायरिंग करता है और उस समय वो जो टी शर्ट और कैप पहनता है उस पर भी कम्पनी का विज्ञापन होता है। हाल में इसका राइट्स paytam के पास है। इसके लिए paytam BCCI को हर साल 65 करोड़ भुगतान करता है।

फ्रैंचाइज़ीयो की ब्रांड वेल्यु:-
  • राजस्थान रॉयल्स                             7600 Cr
  • पंजाब किंग्स                                    7000 Cr
  • गुजरात टाइटन्स                              6000 Cr
  • लखनऊ सुपर जायन्ट्स                   8200 Cr
  • मुंबई इंडियंस                                   9900 Cr
  • चेन्नई सुपर किंग्स                             8800 Cr
  • रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर                    7800 Cr
  • दिल्ली कैपिटल्स                              7900 Cr
  • कोलकाता नाईट राइडर्स                 8400 Cr
  • सनराइजर्स हैदराबाद                       7400 Cr

Journalist from Moradabad. At @News Desk he report, write, view and review Crcicket News. Can be reached at hello@newsdesk-24.com with Subject line starting Kuldeep.

Leave a comment

Your email address will not be published.