|

दुनिया का बेस्ट फिनिशर कहे जाने वाले महेन्द्र सिंह धोनी भारत को इन 4 मौको नहीं दिला सके जीत, मौका नंबर 3 पर रोया था देश

इसमें कोई दो राय नही है की दुनिया का सबसे बेस्ट फिनिशर पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी ही हैं. महेंद्र सिंह धोनी वनडे क्रिकेट के सबसे बेहतरीन फिनिशरों में से एक हैं. उनके दम पर भारत कई ऐसे मैच जीता है जिनका जीतना बहुत मुश्किल था. वो छक्का आज सुनहरे पन्नो में लिखा है जिसमे धोनी ने 2011 छक्का लगाकर वर्ल्ड कप भारत के पल्ले में डाल दिया था.

लेकिन आज हम आपको ऐसे 4 मौको के बारेमे बताने जा रहे है जहाँ धोनी बुरी तरह फ़ैल हुए हैं और एक मैच फिनिशर के तौर पर भारतीय टीम को नही जीता पाए थे.

1.वेस्टइंडीज के खिलाफ

वेस्टइंडीज के खिलाफ के ये टी-20 ये मैच 2016 में फ्लोरीडा में खेला गया था यहाँ धोनी को आखिरी गेंद पर 2 रन बनाने थे लेकिन धोनी नही बना पाए थे सीरीज के पहले मैच में वेस्टइंडीज के 245/6 बनाकर भारत को बड़ा स्क्कोर दिया था.

2.जिम्बाब्वे  के खिलाफ 

2016 में जिम्बाब्वे के खिलाफ भी धोनी मैच को फिनिश नही कर पाए थे, इस टी-20 सीरीज में जिम्बाब्वे ने पहले खेलते हुए 170 रन बनाए थे यहां भारत को अंतिम ओवर में 8 रनों की जरूरत थी। जिसमें पहली 5 गेंदों में 4 रन बनाए अंतिम गेंद में 4 रनों की जरूरत थी। धोनी दो रन ही ले सके और भारत को 2 रन से हार का सामना करना पड़ा।

3.इंग्लैंड  के खिलाफ 

इंग्लैंड के किलाफ़ इस सीरिज का आयोजन 2014 में किये गया था, ये सीरिज T-20 थी मैच में इंग्लैंड ने पहले खेलते हुए 180 रन बनाए। मैच के आखिरी ओवर में धोनी क्रीज पर थे और भारत को 11 रनों की जरूरत थी धोनी ने  दो गेंदों में 8 रन बनाकर उम्मीदें कायम रखी लेकिन बाद में 3 रन बना सके और भारत को 3 रन से हार का सामना करना पड़ा।

 न्यूजीलैंड के खिलाफ

2012 में न्यूजीलैंड भारत के दौरे पर आई थी  भारत ने न्यूजीलैंड से टी-20 मैच खेला था, न्यूजीलैंड ने पहले खेलते हुए 167 रन बनाए। भारत को अंतिम ओवर में 13 रन की जरूरत थी। धोनी क्रीज पर काफी देर से जमे थे।इसके बाद धोनी की स्ट्राइक नहीं आ सकी और भारत को 1 रन से मैच गंवाना पड़ा।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.