|

खेतों में मजदूरी पर काम करने वाली महिला सेल्वाकुमारी एस ने पहली बार में पास किया PSC, अब बनेंगी अधिकारी

खाते है अगर मन को लगी हो क्या नही किया जा सकता? जब दशरथ माँझी सीना ताने खड़े पहाड़ी को काटकर रस्ता बना सकते हैं तो हम क्यों नही कर सकते हैं, ऐसा ही कुछ कर दिखाया है केरल के इडुक्की की रहने वाली सेल्वाकुमारी एस ने, सेल्वाकुमारी दिन में खेतों में काम करती थी और बचे समय पर पढाई करके एक बार में ही PCS क्लियर किया है.

IAS/PCSभारत के सबसे बड़े एग्जाम होते है और इनको पास करने के लिए युवाओ को कड़ी मेहनत करनी पड़ती है वो भी लगातार कई साल तक फिर भी सफलता हाथ नही लगती है केरल के इडुक्की की रहने वाली सेल्वाकुमारी एस अपनी मां के साथ पौधे लगाने का काम करती हैं। उन्होंने पहली बार में PCS का  टेस्ट क्लीयर किया है.

न्यू इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक,  सेल्वाकुमारी एस छोटूपुरान गांव के वांडीपेरियार की रहने वाली हैं। सेल्वाकुमारी एस अपनी मां के साथ कई वर्षों से इलायची के खेतों में काम कर रही हैं।  सेल्वा की दो और बहनें भी हैं जिनकी शादी हो चुकी है। मां को जब जरूरत होती है तो बेटियां मां की मदद करती हैं।

सेल्वाकुमारी एस दिन भर खेतो में काम करती थीं लेकिन जैसे ही उन्हें छुट्टी मिलती थी वो पढाई करने लग जाती थीं. वो गाँव में अपनी दादी के साथ एक छोटे से कमरे में रहती थीं. कभी उनके साथ पढ़ते दोस्त उनके सही से मलयालम भाषा ना बोलने पर तंज कसते थे, आज वही सेल्वा पीएससी क्लीयर कर चुकी हैं।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.