भारतीय टीम को ये 4 धुरंधर धोनी की देन, आज भी अकेले आपने दम पर जिता देते हैं मैच, नंबर 3 बन चूका है कप्तान

Advertisements

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान धोनी ने आपने काल में भारत को कई ट्राफी दिलाई हैं महेंद्र सिंह धोनी को भारतीय टीम की कप्तानी साल 2008 में मिली थी. कप्तानी मिलने के बाद से भारतीय टीम में बहुत बदलाब किये थे, जैसे नए युवाओ को मौका देना, सभी खिलाडियों की पेर्फोमेंस पर ध्यान देना जिससें भारतीय टीम आने वाले समय में मजबूत हो सके.

2008 में कप्तानी मिलने के बाद धोनी ने भारतीय टीम में चार ऐसे युवा खिलाड़ियों को मौका दिया जो टीम इंडिया के लिए मैच विनर्स बन गए. आज वर्ल्ड क्रिकेट में इन 4 क्रिकेटर्स का डंका बज रहा है.

Advertisements

विराट कोहली

विराट कोहली को वनडे में नंबर तीन पर लाने का मौका धोनी ने ही दिया था. धोनी ने कोहली के अछे प्रदर्शन को देखते हुए उन्हें टेस्ट में भी मौका दिया 2012 में पर्थ में सेलेक्टर्स कोहली की जगह रोहित को मौका देना चाहते थे, लेकिन धोनी ने अपनी अंतिम 11 में विराट कोहली को शामिल किया.

Advertisements

रवींद्र जडेजा

जडेजा को टीम इंडिया में लाने के पीछे धोनी का ही हाथ है.दबाजी, बल्लेबाजी और फील्डिंग तीनों ही मामलों में जडेजा का कोई जवाब नहीं. . धोनी उनको टीम से नहीं निकला और बार बार मौका देते रहे. इसी कारण जडेजा शानदार ऑलराउंडर बन गए.

Advertisements

रोहित शर्मा

रोहित को वनडे में सलामी बल्लेबाज बनाने में धोनी का सबसे बड़ा योगदान रहा है. साल 2013 में जब से धोनी ने उन्हें सलामी बल्लेबाजी करने का मौका दिया, तब से ही रोहित शर्मा का अलग रूप देखने को मिला है. रोहित शर्मा को हिटमैन बनाने में माही का बहुत बड़ा हाथ है.

Advertisements

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.