आरसीबी

आईपीएल 2022 से पहले आरसीबी को लगा तगड़ा झटका, टीम का यह दिग्गज खिलाड़ी हुआ कोरोना पॉजिटिव

इंडियन प्रीमियर लीग 2022 की तैयारी जारी है जिसकी नीलामी अगले महीने 7 और 8 फरवरी को बैंगलोर में होने वाली है। उससे पहले रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम को बहुत बड़ा तगड़ा झटका लागा है, क्योंकि उनकी टीम का एक बहुत बड़ा खिलाड़ी कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। जिस वजह से आरसीबी टीम के सभी फैंस दुखी हो गए होंगे। क्योंकि वह खिलाड़ी किसी भी मैच को अकेले आरसीबी की झोली में रखने में काबिलियत रखता है।

इन दिनों ऑस्ट्रेलिया में बिग बैश लीग चल रहा है जो दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी लीग है। इस लीग में अभी तक बहुत सारे क्रिकेटर कोरोना पॉजिटिव पाए हैं, जिसमे से एक प्लेयर आईपीएल में आरसीबी के लिए भी खेलता है। हम इस लेख में आगे बैंगलोर टीम के जिस प्लेयर के बारे में बात करने जा रहे हैं उन्होंने आईपीएल के पिछले सीजन में अपनी बल्लेबाजी से सबको अपना दीवाना बनाया था। यही कारण है कि आईपीएल 2022 की नीलामी से पहले आरसीबी ने उन्हें रिटेन कर लिया है।

आरसीबी का यह खिलाड़ी हुआ कोरोना पॉजिटिव

आज हम जिस क्रिकेटर के बारे में बात करने जा रहे हैं उसका नाम ग्लेन मैक्सवेल है जो ऑस्ट्रेलिया के सबसे तूफानी बल्लेबाजों में से एक है। इंडियन प्रीमियर लीग में मैक्सवेल आरसीबी टीम के लिए खेलते हैं और इस लीग के पिछले सीजन में उनका प्रदर्शन बेहद शानदार रहा था। इसी वजह से बैंगलोर की फ्रेंचाइजी ने आईपीएल 2022 से पहले उन्हें रिटेन कर लिया है, लेकिन अब आरसीबी के लिए एक बहुत बुरी खबर है।

आपको बता दें कि ग्लेन मैक्सवेल इन दिनों बिग बैश लीग में खेल रहे हैं और उस दौरान उन्होंने अपनी टीम के लिए कई मैचों में तूफानी अंदाज में बल्लेबाजी की है। लेकिन इसी बीच वो कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। जिस वजह से मैक्सवेल के चाहने वाले काफी निराश हुए होंगे। अब उनके चाहने वाले यही कामना कर रहे हैं कि ग्लेन मैक्सवेल जल्द से जल्द ठीक हो जाए।

मैक्सवेल इस साल बिग बैश लीग के के एक मुकाबले में सिडनी सिक्सर्स के खिलाफ शानदार बल्लेबाजी करते हुए 57 गेंदों पर 12 चौके और 3 गगनचुंबी छक्के की मदद से 103 रनों की बेहतरीन पारी खेली थी। उस दौरान मैक्सवेल का स्ट्राइक रेट 180.70 का रहा था। इससे साफ़ है कि वो इन दिनों जबरदस्त फॉर्म से गुजर रहे है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.