ऋषभ पंत एक बार फिर बुरी तरह हुए फ्लॉप, अब टीम में इन 3 विकेटकीपर को मिलना चाहिए मौका, नंबर 1 तो पंत से भी ज्यादा खतरनाक है

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच चल रहे तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का अंतिम मुकाबला इन दिनों केपटाउन में खेला जा रहा है, जिसमे भारतीय टीम टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। लेकिन यह निर्णय टीम इंडिया के लिए कुछ बेहतर नहीं रहा, क्योंकि भारतीय टीम पहली पारी में मात्र 223 रनों पर सिमट गई। उस दौरान टीम इंडिया के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत पर हर किसी की नजर थी, लेकिन वो एक बार फिर से फ्लॉप साबित हुए। इस मैच की पहली पारी में पंत 50 गेंदों का सामना करते हुए मात्र 27 रनों की पारी खेली। इस तरह उन्होंने एक बार फिर से अपने चाहने वालों को निराश किया है। आज हम उन तीन विकेटकीपर के बारे में बात करने जा रहे हैं जिसे अब टीम इंडिया में पंत की जगह मौका देना चाहिए।

1. ईशान किशन

युवा भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत तूफानी पारी खेलने के लिए जाने जाते हैं। आईपीएल के पिछले कुछ सीजन से ईशान काफी चर्चा में नजर आए हैं, क्योंकि उस दौरान उनके बल्ले से बड़े-बड़े छक्के देखने को मिले हैं। इसके अलावा घरेलू क्रिकेट में भी ईशान किशन को कई बेहतरीन पारियां खेलते हुए देखा गया है, इस वजह से अब टीम इंडिया में पंत की जगह ईशान को मौका दिया जाना चाहिए।

2. रिद्धिमान साहा

रिद्धिमान साहा भारतीय टीम के साथ इस समय दक्षिण अफ्रीका दौरे पर ही है, लेकिन उन्हें ऋषभ पंत की वजह से टीम में बिल्कुल भी मौका नहीं दिया जा रहा है और उन्हें बेंच पर ही बैठना पड़ रहा है। रिद्धिमान साहा के पास पंत के मुकाबले इंटरनेशनल क्रिकेट खेलने का अधिक अनुभव है, इस वजह से प्लेइंग इलेवन में साहा को मौका दिया जाना चाहिए था। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ यह मैच किसी फाइनल से कम नहीं है, क्योंकि इस मुकाबले को जीतने के बाद ही दोनों में से किसी टीम को यह सीरीज मिलेगा।

3. श्रीकर भरत

श्रीकर भारत एक युवा विकेटकीपर बल्लेबाज है जिन्होंने घरेलू क्रिकेट में हमेशा शानदार बल्लेबाजी की है। इसके अलावा विकेटकीपिंग के मामले में भी भरत ऋषभ पंत से बेहतर है, लेकिन फिर भी इंडियन चयनकर्ता इनके ऊपर बिल्कुल भी ध्यान नहीं दे रहे हैं। जिस तरह पंत इन दिनों फ्लॉप साबित हो रहे हैं, इस वजह से उनकी जगह कुछ मैचों में भारत को भी मौका देना चाहिए।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.