हर क्रिकेट खिलाडी का अपने देश के लिए वर्ल्डकप खेलने के सपना होता है, वो चाहता है की मैं भी देश के लिए खेलू, और अपनी टीम को खिताब जीताने में बड़ा योगदान करू. लेकिन ये सपना हर खिलाडी का पूरा नहीं हो पाता. ऐसी ही कुछ कहानी है भारतीय क्रिकेट टीम के धाकड़ विकेटकीपर बल्लेबाज संजू सेमसन की. बता दे की संजू सेमसन को टीम इण्डिया में डेब्यू करे 7 साल हो चुके है. लेकिन इस खिलाडी को अभी तक एक भी वर्ल्डकप खेलने के मौका नहीं मिला है.

हालाँकि, इस साल फैन्स को उम्मीद थी की संजू को WC के लिए ऑस्ट्रेलिया का टिकट मिलेगा. लेकिन जब BCCI ने वर्ल्डकप के लिए टीम अन्नौंस की तब हजारों फैन्स का दिल टूट गया. क्योकि उसमे संजू का नाम कही नहीं था. इसपर संजू भी काफी निराश हुए. बहरहाल, अब संजू को भारत-A टीम और न्यूज़ीलैण्ड-A टीम के बीच होने वाली 3 मैचों की ODI सीरीज में कप्तानी का लोलीपोप दिया गया है.

ऐसे में अब भारत-Aऔर न्यूज़ीलैण्ड-A के बीच 3 मैचों की ODI सीरीज का आगाज होने से पहले संजू सेमसन ने एक बड़ा बयान दिया है. संजू का कहना है की मैंने खुद को पिछले कुछ सालो में इस तरह से तैयार किया है की मैं कही भी, किसी भी नंबर पर बल्लेबाजी कर सकता हु. संजू का मानना है की एक बल्लेबाजो को लचीला होना चाहिए. उसे खुद को किसी एक पोजीशन पर समेटकर नहीं रखना चाहिए.

मेरे बारे में आप लोग ये नहीं कह सकते की, ‘मैं सलामी बल्लेबाज हु या मैं फिनिशर हु.’ इसके बाद संजू ने वर्ल्डकप में ना चुने जाने को लेकर कहा की, नेशनल टीम के एलिट 15 खिलाडियों की लिस्ट में शामिल होना काफी चुनौतीपूर्ण हो गया है. इस समय खिलाडियों के बीच कम्पटीशन काफी हद तक बढ़ चूका है. जब ऐसी चीजे सामने आती है तो उसमे जरुरी है की खुद पर ध्यान देना. बहरहाल, इस समय मैं जिस तरह प्रदर्शन कर रहा हु मैं खुश हु, लेकिन सुधार करना चाहता हु.

बता दे की संजू ने भारत के लिए साल 2015 से अब मात्र 16 टी-20 मैच खेले है. इन 16 मैचों में सेमसन ने 29.1 एक औसत से 296 रन बनाये है. इसके अलावा इस खिलाडी ने 7 ODI मैच खेले है. इनमे इन्होने 44 के औसत से 176 रन बनाये है. इसके अलावा इस खिलाडी ने IPL के 138 मैचों में 29.1 के औसत से 3526 रन बनाये है.

Journalist from Moradabad. At @News Desk he report, write, view and review Crcicket News. Can be reached at hello@newsdesk-24.com with Subject line starting Kuldeep