टीम इंडिया ने इन दो खिलाड़ियों के लिए सभी दरवाजे किये बंद, खिलाड़ियों का करियर हुआ खत्म

Advertisements

भारतीय टीम दुनिया की सबसे बेस्ट टीम मानी जाती है. भारतीय टीम में सेलेक्शन होना जितना मुश्किल होता है उससे ज्यादा मुश्किल टीम में आपने आप को बरकार बनाये रखना है क्यों =की भारतीय टीम हमेशा ऐसे खिलाडियों को मौका देती है जो अच्छा प्रदर्शन करते हैं  भारत के 2 खिलाड़ी ऐसे हैं, जिनका करियर मुश्किल में फंसा हुआ है और उनके लिए टीम इंडिया के दरवाजे भी लगभग बंद नजर आ रहे हैं. तो आइये नजर डालते हैं उन खिलाडियों पर.

मनीष पाण्डेय :

मनीष पांडेय टीम इंडिया में वापसी करने के लिए काफी मेहनत कर रहे हैं मनीष पांडे का इंटरनेशनल करियर लगभग खत्म माना जाता है नीष पांडे ने टीम इंडिया के लिए अब तक 39 टी-20 इंटरनेशनल मुकाबले खेले हैं, जिसमें उन्होंने की 44.31 औसत और 126.15  की स्ट्राइक रेट से 709 रन बनाए.

Advertisements

आईपीएल 2021 में मनीष का प्रदर्शन अच्छा नही था आईपीएल 2021 में भी मनीष पांडे सनराइजर्स हैदराबाद की टीम के लिए कमजोर कड़ी साबित हुए थे. मनीष पांडे की फ्लॉप बल्लेबाजी के कारण पूरा मिडिल ऑर्डर तहस-नहस हो जाता था, इसलिए मनीष का भारतीय टीम में वापसी असम्भव नजर आ रही है.

कुलदीप यादव : 

एक समय था जब टीम इंडिया के मुख्य और सबसे बड़े बॉलर कुलदीप यादव हुआ करते थे. कुलदीप यादव टीम इंडिया के मुख्य बॉलर हुआ करते थे लेकिन अब वह भारतीय क्रिकेट टीम से बाहर हो गए. सही मायने में कुलदीप के करियर की उल्टी गिनती महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास के बाद से ही शुरू हो गई. जैसे ही धोनी ने क्रिकेट से सन्यास लिया तब से  कुलदीप की गेंदबाजी की चमक मंद पड़ गई.

Advertisements

क खास तरह की गेंदबाजी करना जानते हैं जिसे ‘चाइनामैन बॉलिंग’ कहा जाता है. ये बेहद अनोखी बॉलिंग स्टाइल है, इसमें बाएं हाथ का स्पिनर गेंद को उंगलियों की बजाय कलाई से स्पिन कराता है इसके बाबजूद भी टीम इंडिया में वापसी नही कर पा रहे हैं

Advertisements

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.