क्रिकेट में ICC हर 5 साल के अंतर पर वर्ल्डकप का आयोजन कराती है, जिस देश की टीम इस वर्ल्डकप को जीतती है उसके लिए ये बड़े गर्व की बात होती है और ये अपने आप में एक करिश्मे की तरह होता है. इसी वजह से हर सीजन में दुनिया की हर टीम इसको जीतने के लिए पूरी ताकत लगा देती है. भारत ने इस कप को अब से 11 साल पहली यानि साल 2011 में MS धोनी के नेतृत्व में जीता था. तब इसका आयोजन भारत में ही हुआ था. इसके बाद अब लगभग 12 साल बाद भारत को फिर से ये करिश्मा दौहारने का मौका मिल रहा है.

बता दे की अगले साल यानि 2023 में वनडे वर्ल्ड खेला जाएगा और इसकी मेजबानी भारत करने वाला है. ऐसे में सभी भारतीय क्रिकेट फैंस आशा लगाए बैठे है की कम से कम अब तो भारतीय टीम वर्ल्डकप जीते. क्योकि साल 2011 के बाद से भारत अभी तक कोई भी ICC द्वारा आयोजत बड़ा इवेंट नहीं जीत पाया है. लेकिन मौजूदा समय में भारतीय टीम की तरफ देखा जाये तो इस बार भी फैंस के वर्ल्डकप जीतने के अरमान पुरे होते हुए नजर नहीं आ रहे है.

जी हां, क्योकि विराट कोहली के कप्तानी छोड़ने के बाद से ही टीम कप्तानी को लेकर संकट से जूझ रही है. हालाँकि रोहित शर्मा की कप्तानी में टीम इण्डिया लगभग सभी मैचों में जीत हासिल कर रही है. लेकिन रोहित की कप्तानी को लेकर BCCI सिक्योर नजर नहीं आ रही है. इसका एक कारण रोहित की उम्र भी हो सकती है क्योकि रोहित की उम्र इस वक्त 35 साल है वही दूसरा कारण रोहित की फॉर्म भी है. रोहित अपने हिटमैन सीन से गायब है.  ऐसे में BCCI कप्तानी को लेकर अलग अलग प्रयोग कर रही है.

वनडे क्रिकेट की बात करे तो अभी तक BCCI ऋषभपन्त, शिखर धवन और हार्दिक पांड्या को अजमा चुकी है. इनमे से ऋषभपन्त की सफलता का औसत 50% रहा है. वही, शिखर धवन और हार्दिक पांड्या ने 3 में से 2 मैच टीम को जीताये है. लेकिन यहाँ ये तो निश्चित की है की BCCI धवन पर रिस्क नहीं लेगी, वर्ल्डकप के लिए टीम में शामिल करना भी मुश्किल लग रहा है. ऐसे में अब हार्दिक और पन्त पर रिस्क लिया जा सकता है. फिर रोहित शर्मा का क्या होगा?

इसके बाद एक दिक्कत के एल राहुल भी है, के एल राहुल का आंकलन भी करना बेहद जरुरी है. बहरहाल इन सभी बातो को देखते हुए वर्ल्डकप में टीम का नेतृत्व कौन करेगा इसका फैसला क्रिकेट एक्सपर्ट्स भी नहीं कर पा रहे है.

ऐसे यदि BCCI इस मौके गंवाना नहीं चाहता है तो सेलेक्टर्स को चाहिए की वो अभी से वर्ल्डकप के लिए खिलाडियों के नाम का खुलासा कर दे. और इन खिलाडियों के साथ राहुल द्रविड़ के साथ MS धोनी, अनिल कुंबले, वीरेंद्र सहवाग जैसे पूर्व दिग्गज कप्तानो को जोड़े. ताकि टीम वर्ल्डकप से पहले ही तैयार रहे. ऐसा ना हो की चयनकर्ता कप्तानी को लेकर प्रयोग करते रहे और… वर्ल्डकप जीतकर कोई और ले जाए.

Journalist from Moradabad. At @News Desk he report, write, view and review Crcicket News. Can be reached at hello@newsdesk-24.com with Subject line starting Kuldeep

Leave a comment

Your email address will not be published.