इस समय भारतीय क्रिकेट टीम जहां आगामी टी-20 वर्ल्डकप की तैयारियों में लगी हुई है. तो वही, देश में कई घरेलु टूर्नामेंट भी खेले जा रहे है. इनमे से एक दिलीप ट्रॉफी भी है. इस समय देश के राज्य तमिलनाडु में दिलीप ट्रॉफी का आयोजन चल रहा है. इसके तहत शुक्रवार के दिन पश्चमी क्षेत्र और मध्य क्षेत्र बीच मुकाबला खेला गया. लेकिन इस मुकाबले में एक भयवाह घटना देखने को मिली. आलम ये हो गया है एम्बुलेंस भी चलते मैच में मैदान में बुलानी पड़ी.

जी हां, बता दे की इस मैच में जब मिडिल जोन की तरफ से वेंकेटश अय्यर बल्लेबाजी कर रहे थे तब विपक्षी टीम के गेंदबाज चिन्तन गाजा ने एक राकेट थ्रो मारा और गेंद बल्लेबाज वेंकेटश अय्यर के सर में जाकर लग गई. जिसके बाद अय्यर चलते मैच में ही करहाते हुए पिच पर गिर गये. इसके बाद किया था मैदान पर ही एम्बुलेंस बुलानी पड़ी और स्ट्रेचर भी निकला गया.

लेकिन वेंकेटश अय्यर कुछ देर के बाद एम्बुलेंस के बजाये अपने पैरो पर ही मैदान से बाहर गये. और फिर कुछ समय के बाद फिर से बल्लेबाजी करने के लिए वापस आये. लेकिन इसके बाद अय्यर सही से बल्लेबाजी नहीं कर सके और अय्यर मात्र 14 रन बनाकर कैच आउट हो गये.

बताया की गेंदबाज चिन्तन गाजा ने जानबुझकर गुस्से में आकर अय्यर को ये खतरनाक थ्रो मारा था. दरअसल, इस थ्रो से पहले अय्यर ने चिन्तन गाजा की गेंद पर शानदार छक्का जड़ा था. और इसे गाजा सहन नहीं कर पाए. जिसके बाद गाजा ने वापसी करते पहले के मुताबिक अच्छी गेंद डाली. वही, अय्यर ने इसको डिफेन्स किया. जिसके बाद गेंद गाजा के हाथो में चली गई और गाजा ने अय्यर की तरफ थ्रो दे मारा.

तब ये गेंद सीधे अय्यर के सर में जाकर लगी. बता दे की गाजा की इस शर्मनाक हरकत के बाद अब गाजा को लाइफ टाइम क्रिकेट से बैन करने की मांग उठ रही है.

वही, आपको बता दे की अय्यर टीम इण्डिया में भी डेब्यू कर चुके है. आईपीएल 2022 से पहले तक जब तक हार्दिक पांड्या टीम के लिए उपलब्ध नहीं थे तब इन्हें खूब मौके दिए गये. लेकिन अब वेंकटेश अय्यर पूरी तरह बाहर हो गये है.

Journalist from Moradabad. At @News Desk he report, write, view and review Crcicket News. Can be reached at hello@newsdesk-24.com with Subject line starting Kuldeep