हमारे जीवन में कई बार अजीबोगरीब संयोग बनते है, जिन्हें देखकर हमें हमारी आँखों पर भी विस्वास नहीं होता. और हम हैरान रह जाते है. आज हम आपको एक ऐसा ही संयोग क्रिकेट इतिहास से जुड़ा हुआ बताने वाले है, जिसके बारे में जानकर हर कोई दंग रह जाता है. इस लेख की हैडलाइन पढकर आपको भी कुछ पल के लिए हैरानी हुई होगी? तो चलिए जानते है..

दरअसल, ये बात साल 2011 की है. इस साल नवम्बर में ऑस्ट्रेलिया की क्रिकेट टीम ने साऊथ अफ्रीका का टेस्ट दौरा किया था. हालाँकि इस समय ऑस्ट्रेलिया की टीम काफी स्ट्रोंग थी, टीम के कप्तान माइकल क्लार्क थे, और टीम में रिंकी पोंटिंग जैसे धाकड़ खिलाडी भी मौजूद थे इसके बावजूद भी इस मैच में ऑस्ट्रेलिया को साऊथ अफ्रीका के हाथो 8 विकेट से जीती थी.

जी हां, दरअसल इस सीरीज का पहला मैच 9 नवम्बर 2011 को केपटाउन स्टेडियम में खेला गया था. पहले दिन पहली पारी में ऑस्ट्रेलिया की क्रिकेट टीम ने बल्लेबाजी शुरू की थी और कप्तान माइकल क्लार्क की 151 रनों की शानदार पारी की बदौलत ऑस्ट्रेलिया टीम ने पहले दिन 284 रन बनाये थे. जबकि पहली पारी में SA केवल 96 रन पर ही ढेर हो गई थी. इस तरह ऑस्ट्रेलिया की टीम को अब 188 रन की बढ़त मिल गई थी और सीरीज जीतती हुई नजर आ रही थी.

लेकिन जब दुसरे पारी खेली गई तब उसमे ऑस्ट्रेलिया टीम केवल 47 रन बनाकर ही आलआउट हो गयी थी. इस दौरान ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज नैथन लियोन ने 14 रन की सबसे बड़ी पारी खेली थी. इसके बाद इस मैच में SA को 236 रन का टारगेट मिला, जिसे साऊथ अफ्रीका की टीम ने कप्तान ग्रीम स्मिथ की 101 और अमला की 112 रन की पारी बदौलत कुछ ही समय में हासिल कर लिया था और सीरीज पर अपना कब्ज़ा जमा लिया.

लेकिन इस दौरान मजे की बात ये थी की इस दिन तारीख थी 11.11.11 और जब SA की टीम को जीतने के लिए 111 रन चाहिए थे तब घडी में समय भी था 11:11 . इस स्थिति को देखकर सभी लोग हैरान थे. और आज भी जब इस समय के बारे में सोचते है तो ये एक सपने जैसा लगता है.

Journalist from Moradabad. At @News Desk he report, write, view and review Crcicket News. Can be reached at hello@newsdesk-24.com with Subject line starting Kuldeep

Leave a comment

Your email address will not be published.