टेस्ट क्रिकेट में दुनिया के इन 5 बल्लेबाजों ने खेली है सबसे धीमी पारी

टेस्ट क्रिकेट में दुनिया के इन 5 बल्लेबाजों ने खेली है सबसे धीमी पारी, नंबर 1 के बल्ले से नहीं निकला कोई रन

टेस्ट क्रिकेट में खिलाड़ियों को सोच-समझकर बल्लेबाजी करना होता है, ताकि वो लंबे समय तक मैदान पर डटे रहे और अच्छी पारी खेले। लेकिन कई बार बल्लेबाज यह भूल जाते हैं कि उन्हें सिर्फ डॉट गेंद नहीं खेलनी है, बल्कि खराब गेंदों पर प्रहार भी करना है। इस वजह कुछ बल्लेबाजों ने टेस्ट क्रिकेट में बहुत सारी गेंदों का सामना करते हुए बहुत कम रन बनाए हैं तो चलिए आज हम आपको दुनिया के उन 5 बल्लेबाजों के बारे में बताते हैं जो टेस्ट क्रिकेट में सबसे धीमी पारी खेली है।

1. ज्यॉफ अलॉट

न्यूजीलैंड के पूर्व तेज गेंदबाज ज्यॉफ अलॉट ने साल 1999 के वर्ल्ड कप में शानदार गेंदबाजी करते हुए अपनी टीम को सेमीफाइनल में पहुंचाया था। लेकिन उनके नाम टेस्ट क्रिकेट में सबसे धीमी पारी खेलने का वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज है। बता दें कि साल 1999 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ एक टेस्ट मैच में ज्यॉफ अलॉट 77 गेंदों का सामना किया, लेकिन उस दौरान वो खाता भी खोलने में असफल रहे।

2. हनीफ मोहम्मद

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व बेहतरीन बल्लेबाज हनीफ मोहम्मद साल 954 में इंग्लैंड के खिलाफ एक टेस्ट मैच में लॉर्ड्स के मैदान पर बल्लेबाजी कर रहे थे। उस दौरान उन्होंने अपनी पारी में 223 गेंदों गेंदों का सामना किया, लेकिन सिर्फ 20 रन बना पाए।

3. यशपाल शर्मा

पूर्व भारतीय बल्लेबाज यशपाल शर्मा का नाम भी इस सूची में शामिल है, क्योंकि साल 1981 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक टेस्ट मैच खेला जा रहा था, उसमे यशपाल शर्मा 157 गेंदों का सामना करते हुए मात्र 13 रन बना पाए थे।

4. एबी डी विलियर्स

साउथ अफ्रीका के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज एबी डी विलियर्स का नाम भी इस सूची में मौजूद है, क्योंकि उन्होंने साल 2015 में भारत के विरुद्ध खेले गए एक टेस्ट मैच में 244 गेंदों का सामना करते हुए सिर्फ 25 रन बना पाए थे। डी विलियर्स की इस पारी के बारे में जानकर कुछ लोगों के लिए यकीन करना मुश्किल हो रहा होगा, लेकिन यह सत्य है।

5. राहुल द्रविड़

दीवार के नाम से मशहूर राहुल द्रविड़ इस समय टीम इंडिया के कोच है। भारत और इंग्लैंड के बीच साल 2007 में एक टेस्ट मैच खेला जा रहा था, जिसमे द्रविड़ 96 गेंदों का सामना करते हुए मात्र 12 रनों की पारी खेल पाए थे। यही कारण है कि इस सूची में उनका भी नाम मौजूद है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.