महिला से मारपीट करने के मामले में बुरी तरह फंसा यह भारतीय क्रिकेटर

महिला से मारपीट करने के मामले में बुरी तरह फंसा यह भारतीय क्रिकेटर, होटल में बुला कर ताबड़तोड़ जड़े चांटे

Advertisements

जिस तरह क्रिकेटर अपने प्रदर्शन को लेकर खबरों में रहते हैं उससे कहीं अधिक वो अपनी पर्सनल जिंदगी को लेकर चर्चा में बने रहते हैं। वर्तमान में हर कोई सोशल मीडिया का इस्तेमाल करता है, इस वजह से क्रिकेट फैंस अपने चहेते खिलाड़ी को हर जगह फॉलो करता है। क्रिकेट इतिहास में बहुत सारे ऐसे खिलाड़ियों को देखा गया है जिन्होंने मैदान से बाहर कुछ ऐसे काम किए, जिस वजह से उन्हें जेल की सलाखों के पीछे भी जाना पड़ा।

दुनिया में हर व्यक्ति कुछ न कुछ गलतियां करता हैं, लेकिन कुछ ऐसे लोग हैं जो जानबूझकर गलती करते हैं। आज हम एक ऐसे भारतीय खिलाड़ी के बारे में बात करने जा रहे हैं जो महिला के साथ मारपीट करने के जुर्म में फंस गया था, जिस वजह से उन्हें जेल की हवा खानी पड़ी थी। उस क्रिकेटर के बारे में लगभग सभी भारतीय फैंस जानते होंगे।

Advertisements

इस भारतीय खिलाड़ी ने महिला के साथ की थी मारपीट

हम जिस भारतीय खिलाड़ी के बारे में बात करने जा रहे हैं उसका नाम अमित मिश्रा है जो ऑफ स्पिन गेंदबाजी करते हैं। साल 2015 में अमित मिश्रा के ऊपर आरोप लगा था कि उसने होटल में एक महिला के साथ मारपीट की है। इस घटना के संबंध में पुलिस ने बताया था कि बैंगलोर के एक होटल के कमरे में महिला को बुलाकर उसके साथ कथित यौन उत्पीड़न करने का आरोप अमित मिश्रा पर लगाया गया है और उनके खिलाफ मामला भी दर्ज किया गया है। फिर पुलिस उस मामले को लेकर अमित मिश्रा से पूछताछ की, उसके बाद धीरे-धीरे वह मामला पूरी तरह ठंडा पड़ गया, जिस वजह से पुलिस ने उन्हें छोड़ दिया।

बेंगलुरु पुलिस ने अमित मिश्रा को किया था गिरफ्तार

भारतीय टीम के स्पिन गेंदबाज अमित मिश्रा को साल 2015 के अक्टूबर महीने में बेंगलुरु पुलिस ने गिरफ्तार किया था। क्योंकि उनकी एक महिला मित्र ने ही होटल में उनके हाथ मारपीट करने का आरोप लगाया था। इस घटना के संबंध में पुलिस ने अमित मिश्रा के साथ तकरीबन 3 घंटे तक पूछताछ की थी, उसके बाद जमानत पर उन्हें रिहा कर दिया गया। साल 2015 में जब यह घटना घटी थी, उस दौरान भारत और साउथ अफ्रीका के बीच वनडे सीरीज चल रहा था, जिसका हिस्सा अमित मिश्रा भी थे।

Advertisements

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.