भारत और आयरलैंड के बीच दो मैचों की टी 20 सीरीज का दूसरा और फाइनल मुकाबला भी डबलिन के द विलेज स्टेडियम में खेला। जिसमे हार्दिक पांड्या की अगुवाई में भारतीय टीम ने 4 रन से अपनी जीत दर्ज की। इस मैच में भारतीय टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी की और 7 विकेट खोकर आयरलैंड के सामने 226 रन का लक्ष्य सेट किया। इसमें सबसे बड़ा योगदान दीपक हुड्डा का रहा।

हुड्डा ने इस मैच में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए 104 रनों की तूफानी शतकीय पारी। जिसमे इन्होने 9 चौके और 6 आसमानी छक्के जड़े। वही, इनके बाद संजू सैमसन ने भी 9 चौके और 4 छक्को की मदद से 42 गेंदों में 77 रन की तूफानी पारी खेल अपना आक्रमक रूप दिखाया। इस तरह इन दोनों ने दुसरे विकेट के लिए टी 20I क्रिकेट इतिहास की सबसे बड़ी 176 रन की साझेदारी कर एक नया इतिहास रचा।

इस मैच में जहां एक तरफ युवा बल्लेबाज दीपक हुड्डा और संजू सैमसन ने क्रमशः अपने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट कैरियर का पहला शतक और अर्द्धशतक लगाकर आयरलैंड में भारत का डंका बजाय। वही, दिनेश कार्तिक, अक्षर पटेल और हर्षल पटेल इस मैच में अपना खाता भी नहीं खोल पाए। ये तीनो ही बल्लेबाज गोल्डन डक का शिकार हुए।

टी 20 क्रिकेट के इतिहास में ये पहली बार देखने को मिला जब किसी टीम के 3 बल्लेबाज लगातार गोल्डन डक का शिकार हुए। और इसके बावजूद भी भारतीय टीम ने 200 से अधिक का स्कोर खड़ा किया।

  • 208/5 IND vs Ireland, DUBLIN 2018
  • 213/4 IND vs Ireland, DUBLIN 2018
  • 252/3 SCO vs NED, DUBLIN 2019
  • 225/7 IND vs Ireland, DUBLIN 2022*

Journalist from Moradabad. At @News Desk he report, write, view and review Crcicket News. Can be reached at hello@newsdesk-24.com with Subject line starting Kuldeep

Leave a comment

Your email address will not be published.