टॉप-3 प्लेयर जिन्हें BCCI ने कर दिया था बैन, लेकिन बाद में आईपीएल में वापसी करके बने बड़े सितारे,पहले 2 पर नहीं होगा यकीन

आईपीएल दुनिया की सबसे पॉपुलर क्रिकेट लीग है। इस लीग में दुनियाभर के तमाम खिलाडी खेलना चाहते है। जहा इस लीग में अब तक कई बड़े बड़े स्टार प्लेयर ने अपनी प्रतिभा दिखाई है तो वही कुछ ऐसे खिलाडी भी हुए है, जिन्होंने अपने देश की टीम में भी डेब्यू नहीं किया है और उन्होंने आईपीएल के इस टूर्नामेंट में हिस्सा लिया है। इसके अलावा कुछ खिलाडी ऐसे भी हुए है, जिन्हें BCCI ने कुछ मैचों या कुछ सालो के लिए बैन कर दिया था, तब भी उन्होंने इस टूर्नामेंट में अपनी प्रतिभा दिखाई।

आज हम आपको ऐसे ही 3 प्लेयर के बारे में बताने वाले है, जिन्हें BCCI ने कुछ समय के लिए बैन कर दिया था। लेकिन जब बैन हटा तो उन्होंने आईपीएल में बेहतरीन प्रदर्शन किया और आगे चलकर स्टार प्लेयर भी बने। तो चलिए जानते है।

1.हरभजन सिंह:-

हरभजन सिंह भारत के पूर्व महान स्पिनर गेंदबाज हुए है। इनके बारे में ज्यादा कुछ बताने की जरूरत भी नहीं है। इन्होने साल 2008 में पहली बार MI के लिए कप्तानी की थी, तब उस सीजन में पंजाब के खिलाफ हुए एक मैच में इन्होने S श्रीसंत को जोरदार थप्पड़ जड़ दिया था। जिसके बाद BCCI ने इनपर 11 मैचों के लिए बैन लगा दिया था। इसक बाद जब अगले साल से इन्होने आईपीएल खेला तब हरभजन सिंह ने CSK, MI और KKR के खिलाड़ खेलते हुए 150 विकेट चटकाए थे।

2.रविन्द्र जडेजा:-

इस लिस्ट में चेन्नई सुपर किंग्स के मौजूदा कप्तान रविन्द्र जडेजा का नाम भी आता है। आज ये भी एक स्टार प्लेयर है। कहा जाता है की साल 2010 के सीजन से पहले ही BCCI ने इनपर पुरे  सीजन के लिए बैन लगा दिया था। इनपर ये आरोप लगा था की ये एक फ्रैंचाइज़ी का हिस्सा रहते हुए दूसरी फ्रैंचाइज़ी के अधिकारियों  से बात कर रहे थे। इसके बाद अगले साल 2011 में इन्होने कोच्ची ट्स्कर्स केरल की तरफ से आईपीएल में वापसी की थी। इसके बाद 2012 में चेन्नई की टीम ने इन्हें सबसे महंगे में ख़रीदा था।

3.रसिक सलाम:-

रसिक सलाम जम्मू एंड कश्मीर से आते है। इन्होने साल 2019 में MI की तरफ से दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ अपना आईपीएल डेब्यू मैच खेला था। तब ये काफी महंगे भी साबित हुए थे, जिसके बाद इन्हें प्लेइंग 11 में शामिल नहीं किया गया था। इसी साल इंग्लैंड में एक अंडर 19 ट्राई सीरीज खेली गई थी, लेकिन उसे पहले ही इनपर दो साल का बैन लगा दिया गया था। इनपर आरोप था की इन्होने फर्जी जन्म प्रमाण पत्र जमा किया था।

इसके बाद अब आईपीएल 2022 के लिए KKR ने इन्हें अपनी टीम का हिस्सा बनाया है। इन्हें इस सीजन में MI के खिलाफ खेलने का मौका मिला जिसमे इन्होने अपने 3 ओवर में 18 रन खर्च किये है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.