रॉकेट जैसी तेज गेंद फेंकने वाले दुनिया के टॉप-5 गेंदबाज

रॉकेट जैसी तेज गेंद फेंकने वाले दुनिया के टॉप-5 गेंदबाज, एक तो आज भी बल्लेबाजों पर कहर बनकर टूट रहा है

क्रिकेट इतिहास में बहुत सारे गेंदबाज हुए हैं जिन्होंने अपनी तेज गेंदबाजी से दुनिया के बड़े-बड़े बल्लेबाजों को परेशान किया है। जब भी कोई तेज गेंदबाज रॉकेट जैसी स्पीड से गेंदबाजी करता है तो उसका सामना करना बल्लेबाजों के लिए बहुत ज्यादा मुश्किल हो जाता है। लेकिन आज के समय में बल्लेबाजों के अनुकूल पिच तैयार की जाती है, जिस वजह से गेंदबाजों को अधिक मदद नहीं मिल पाते हैं। आज हम आपको दुनिया के उन 5 गेंदबाजों के बारे में बताने जा रहे हैं जो रॉकेट जैसी तेज गेंद फेंकने के लिए जाते हैं और उनके नाम क्रिकेट इतिहास में सबसे तेज गेंद फेंकने का वर्ल्ड रिकॉर्ड भी दर्ज है।

1. शोएब अख्तर

पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर को रावलपिंडी एक्सप्रेस के नाम से जाना जाता है। शोएब की खूंखार गेंदबाजी के सामने बड़े-बड़े बल्लेबाज घुटने टेक देते थे। इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे तेज गेंद फेंकने का रिकॉर्ड इन्ही के नाम दर्ज है। साल 2003 विश्व कप के एक मुकाबले में इंग्लैंड के खिलाफ शोएब ने 161.3 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से तेज गेंद फेंकी थी।

2. ब्रेट ली

इस सूची में ब्रेट ली दूसरे स्थान पर मौजूद है, क्योंकि वो भी तेज गेंद फेंकने में माहिर थे। साल 2005 में न्यूजीलैंड के खिलाफ एक मुकाबले में ब्रेट ली ने 161.1 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से गेंद फेंकी थी।

3. शॉन टैट

तेज गति से गेंद फेंकने के मामले में ऑस्ट्रेलिया के पूर्व गेंदबाज शॉन टैट भी किसी से कम नहीं है। यही कारण है कि उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ एक मैच में 161.1 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से तेज गेंद फेंकी थी, इस वजह से इस सूची में वो तीसरे स्थान पर है।

4. जेफ थॉमसन

जेफ थॉमसन ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज तेज गेंदबाज है जो घातक गेंदबाजी करने के लिए जाने जाते थे। साल 1975 में वेस्टइंडीज के खिलाफ एक मैच में थॉमसन ने 160.6 किलीमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से गेंद फेंकी थी, यह रिकॉर्ड लंबे समय तक कोई नहीं तोड़ पाया था।

5. मिचेल स्टार्क

इस सूची में पांचवां नाम ऑस्ट्रेलिया के घातक तेज गेंदबाज मिचेल स्टार्क का है जो इन दिनों शानदार गेंदबाजी कर रहे हैं और बल्लेबाजों के ऊपर कहर बनकर टूट रहे हैं। क्योंकि उनके पास अच्छी गति है, यही कारण है कि साल 2015 में उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ एक मुकाबले में 160.4 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से तेज गेंद फेंकी थी।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.