COVID में चल बसे मां-बाप फिर भी नही मानी हार, 99.8% लाकर टॉपर बनी बेटी, नोट में लिखा मैं मजबूत लड़की बनूंगी पापा

Advertisement

यूपी बोर्ड, CBSE बोर्ड, ICSE बोर्ड सभी बोर्ड ने 10 वी और 12 वीं का रिजल्ट जारी कर दिया है इसी बीच CBSE  बोर्ड ने भी रिजल्ट जारी कर दिया है और देश बहार के 99.04% प्रतिशत बच्चे पास हुए है पास होने वाले बच्चो में भोपाल की वनिशा पाठक भी हैं जो दसवी में  99.8 फीसदी नंबर लाकर अपने राज्य में टॉप की है.

Advertisement

क्योंकी वनिशा ने राज्य को टॉप किया है तो उसका नाम हर किसी की जुबान पर है लेकिन वो जिन हालातों से गुजरी है उसके बारे में जानकर रह कोई दंग रह गया है, Indiatimes की रिपोर्ट के मुताबिक जिस वक्त सभी बच्चे अपनी 10वीं की परीक्षा की तैयारी में जुटे थे, उस वक्त वनिशा ने अपने मां-बाप को खो दिया था. और वो अंदर से बहुत टूट गयी थी हालाकिं वनिशा ने अपने आप को संभाला और तैयारी में जुट गयी.

टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करते हुए वनिशा कहती है, ”मैंने एक हफ्ते के अंदर मां और पापा को खो दिया. मेरे सामने पूरा अंधेरा था. मुझे लगा कि मैंने अपने जीवन में सब कुछ खो दिया है. मेरी ऊपर अपने 10 साल के छोटे भाई की जिम्मेदारी थी. छोटी सी उम्र में, मैं उसके के लिए पिता और मां बन गई थी. मजबूत रहकर, सारी चीजों पर केंद्रित करने के अलावा मेरे पास कोई दूसरा विकल्प नहीं था”

Advertisement
indiatimes.com

वनिशा ने अपने माता-पिता के निधन के बाद खुद को हौसला देते हुए एक पत्र लिखा, जो भावकु कर देने वाला है. वनिशा ने इस पत्र में ऐसा क्या लिखा था कि इसको पढ़ने के बाद सबकी आंखें हो रही हैं. यहां आप खुद पढ़िए…

सभार : indiatimes.com

Advertisement