एक समय इस बल्लेबाज पर बहुत भरोसा करते थे विराट कोहली

रोहित शर्मा इस समय टीम इंडिया के लिए क्रिकेट के तीनो फॉर्मेट में बतौर ओपनर खेलते हैं और यही जगह उन के लिए सबसे बेहतर साबित हुआ है। रोहित पहले वनडे और टी-20 क्रिकेट में ओपनिंग करते थे और वहां पर बल्लेबाजी करते हुए उन्होंने कई बड़े-बड़े रिकॉर्ड बना दिए। जिस वजह से उनके फैंस तेजी से बढ़ने लगे। अब रोहित टेस्ट क्रिकेट में भी ओपनिंग करते हैं और उन्होंने बतौर सलामी बल्लेबाज खेलते हुए कई अच्छी पारियां खेली है।

जब से रोहित शर्मा टेस्ट क्रिकेट में ओपनिंग करने लगे हैं उसके बाद कई खिलाड़ियों को टीम से बाहर होना पड़ा है। इन दिनों भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला खेला जा रहा है। लेकिन रोहित इस सीरीज से बाहर है, क्योंकि वो चोटिल है। आज हम जिस खिलाड़ी के बारे में बात करने जा रहे हैं उसका नाम मुरली विजय है जो एक समय टेस्ट क्रिकेट में लगातार टीम इंडिया का हिस्सा हुआ करते थे।

मुरली विजय अब नहीं आते टीम में नजर

जब रोहित शर्मा टेस्ट क्रिकेट में भारत की तरफ से ओपनिंग नहीं करते थे, उस समय विराट कोहली मुरली विजय पर सबसे अधिक भरोसा दिखाते हैं। यही कारण है कि उन्हें लगातार खेलने का मौका दिया जाता है, लेकिन अब ऐसा समय आ गया है कि मुरली विजय के बारे में कोई चर्चा भी नहीं होती है। अगर आगे भी ऐसा ही हाल रहा तो आने वाले एक या दो साल के अंदर वो संन्यास ले सकते हैं।

मुरली विजय भारतीय क्रिकेट टीम के लिए अपना आख़िरी टेस्ट मैच दिसंबर 2018 में ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध खेला था, जिसमे वो अच्छी प्रदर्शन करने में असफल रहे थे। यही कारण है कि अब उन्हें कोई मौका नहीं दिया जाता है। इसके अलावे एक वजह यह भी है कि फिलहाल भारत के पास बहुत सारे ओपनर बल्लेबाज हो गए हैं जो लगातार रन बना रहे हैं, इस वजह से उसे हटाया नहीं जा सकता है।

टेस्ट क्रिकेट में मुरली विजय के आंकड़े

37 वर्षीय मुरली विजय टीम इंडिया के लिए 61 टेस्ट मैचों की 105 पारियों में बल्लेबाजी कर चुके हैं और उस दौरान उन्होंने 38.29 की औसत से 3982 रन बनाए हैं। क्रिकेट के इस फॉर्मेट में विजय ने कुल 12 शतक और 15 अर्द्धशतक लगाए हैं, वहीं टेस्ट क्रिकेट में उनका सबसे बड़ा स्कोर 167 रन है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *