शोएब अख्तर
ऐसी और जानकारी सबसे पहले पाने के लिए हमसे जुड़े
WhatsApp Group Join Now

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर के बारे में पूरी दुनिया जानती है, क्योंकि उनके नाम इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे तेज गेंद फेंकने का वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज है जिसे आज-तक दुनिया का कोई भी गेंदबाज नहीं तोड़ पाया है। रावलपिंडी एक्सप्रेस के नाम से महसूर शोएब अख्तर ने अपने क्रिकेट करियर के दौरान दुनिया के बड़े-बड़े बल्लेबाजों को आउट होने के लिए मजबूर किया है। इस्ससे आप अंदाजा लागा सकते हैं कि वो कितना खतरनाक गेंदबाज था।

जब शोएब अख्तर पर लगा था रेप का आरोप

साल 2005 में पाकिस्तान की टीम ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गई हुई थी तो उस दौरान अपनी टीम के साथ शोएब अख्तर भी मौजूद थे। लेकिन वहां से उन्हें अनफिट कहकर वापस पाकिस्तान भेज दिया गया था, फिर मीडिया में एक खबर तेजी से वायरल हुआ कि शोएब अख्तर उस दौरान अनफिट नहीं, बल्कि उनके ऊपर एक लड़की के साथ रेप करने करने का घिनौना आरोप लगा था। इसके बारे में पिछले वर्ष ही शोएब अख्तर ने हेलो एप्प पर लाइव चैट के दौरान खुलासा करते हुए कहा कि ऑस्ट्रेलिया दौरे से साल 2005 में मुझे वापस भेज दिया गया था। उस दौरान मुझे एक महिला के साथ रेप के आरोप में घसीटा गया था।

इस मामले को लेकर अख्तर ने कहा कि उस वर्ष मुझे पहले ऑस्ट्रेलिया दौरे से वापस पाकिस्तान भेज दिया गया। मुझ पर रेप का आरोप भी लगाया गया था। उस समय पाकिस्तान टीम में मेरा एक दोस्त हुआ करता था, जिसकी एक महिला के साथ गलतफहमी हो गई। उसके बाद पाकिस्तान टीम मैनेजमेंट ने उस लड़के को छुपाया और मेरे ऊपर रेप की कोशिश करने का आरोप लगा दिया, जो किसी दूसरे क्रिकेटर द्वारा किया गया था। इसी वजह से मुझे उस साल ऑस्ट्रेलिया दौरे से वापस पाकिस्तान भेज दिया गया था।

शोएब अख्तर ने आगे कहा कि इस मामले को लेकर हमने पीसीबी से पूछा था, लेकिन बोर्ड की तरफ से मुझे उस लड़के का नाम तक नहीं बताया गया और न ही उन्होंने मेरा नाम इस मामले से हटाया। इस वजह से उस समय हर कोई मेरे ऊपर शक की नजर से देख रहा था। सब ने कहा था कि शोएब भाई ही प्ले ब्वॉय है। बाद में टीम को उस लड़के का नाम मालूम चल गया और वो उस टीम का सबसे शरीफ लड़का था।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *